सड़क निर्माण में धांधली, स्वीकृत से अधिक निकाली राशि, जिला पंचायत तक पहुंचा मामला

ग्रामीणों ने जिला पंचायत सीइओ से की शिकायत, ढीमरखेड़ा जनपद की इमलिया पंचायत का मामला

By: balmeek pandey

Published: 03 Oct 2020, 09:42 AM IST

कटनी/उमरियापान. शासकीय राशि का दुरुपयोग और जिम्मेदार कर्मचारियों की मिलीभगत से सरपंच-सचिव द्वारा सड़क निर्माण में जमकर धांधली करने का मामला सामने आया है। मामला ढीमरखेड़ा जनपद की ग्राम पंचायत इमलिया का है। ग्रामीणों ने जिला पंचायत सीइओ जगदीशचंद्र गोमे से शिकायत कर जांच कराते हुए कार्रवाई करने की मांग किया है। पंच सुक्को कोल, ममता बाई सहित ग्रामीणों ने जिला पंचायत सीइओ से शिकायत कर बताया कि इमलिया में 10 लाख रुपये और कारीपाथर में 6 लाख रुपये की लागत से बन रही सीसी सड़क में जमकर धांधली की जा रही है। सरपंच झुंनी बाई आदिवासी और सचिव ओमकार यादव ने करिपाथर में सड़क के लिए स्वीकृत 6 लाख रुपये से अधिक की राशि का आहरण भी कर लिया है। सरपंच सचिव द्वारा बनाई जा रही सड़क में शासन के मापदंडों का पालन नही किया जा रहा। सड़क पर कहीं बेस है तो कही बेस ही नहीं डलवाया गया।

पीसीओ की मिलीभगत कर मनमानी
ग्रामीणों ने शिकायत कर बताया कि ग्राम पंचायत में जो भी कार्य होते हैं, उनमें पीसीओ नरेश परौहा संलिप्त रहते हैं। इनके द्वारा ही निर्माण कार्य कराए जाते हैं और जमकर भ्रष्टाचार किया जाता है। पीसीओ द्वारा कर्मचारियों को राजनैतिक दबाव देकर निर्माण कार्यों का मूल्यांकन और सीसी जारी कराई जाती है। ग्रामीणों ने पीसीओ को उक्त क्षेत्र से मुक्त करने की मांग किया है।

इनका कहना है
शासन के मापदंडों पर निर्माण कार्य कराया जा रहा है। ग्रामीणों ने जो भी शिकायत किया है,वह निराधार है।
ओमकार यादव, सचिव, इमलिया

इमलिया में निर्माण कार्यों में गड़बड़ी करने की शिकायत मिली है। मामले की जांच कराई जा रही है। जो भी दोषी होगा उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।
जगदीश चंद्र गोमे, सीईओ जिला पंचायत।

balmeek pandey Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned