यहां कोरोना वैक्सीन को लेकर बड़ी लापरवाही

शहर में तीन सौ को भेजा मैसेज, महज तीन लोग ही पहुंचे

By: narendra shrivastava

Published: 09 Feb 2021, 06:00 PM IST

कटनी। कोविड-19 वैक्सीनेशन को लेकर जिला अस्पताल में सोमवार को नजारा कुछ और ही रहा। कोरोना वैक्सीनेशन के लिए जिला अस्पताल में चार केंद्र बनाए गए थे। स्वास्थ्य विभाग की तैयारी थी कि बड़ी संख्या में लोग पहुंचेंगे। तीन सौ से ज्यादा लोगों को मैसेज भी भेजा गया। इसमें महज तीन लोग ही वैक्सीनेशन के लिए पहुंंचे। जिला अस्पताल में एक और वैक्सीन स्टोर में दो लोगों को कोरोना का टीका लगाया गया।
जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. समीर सिंघई के अनुसार कोरोना टीका के पहले चरण में स्वास्थ्य विभाग और महिला एवं बाल विकास विभाग के 6 हजार 777 फं्रटलाइन वर्करों का टीकाकरण होना था, इसमें 5 हजार 757 लोगों ने टीका लगवाया। द्वितीय चरण में अब राजस्व विभाग, नगर निगम और पुलिसकर्मियों को मिलाकर 3 हजार 13 लोगों का चयन किया गया है। जिनको 4 दिन आठ, दस, 11 व 13 फरवरी को टीका लगेगा।

उमरियापान, विजयराघवगढ़ मेंं सर्वाधिक टीकाकरण
कोरोना वैक्सीनेशन के द्वितीय चरण में राजस्व, पुलिस और नगरीय निकाय के फ्रंट लाइन वर्करों का टीकाकरण होना था। सोमवार को सर्वाधिक लोग उमरियापान और विजयराघगढ़ में पहुंचे। इसमें सिविल अस्पताल विजयराघवगढ़ में 100, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र रीठी में 56, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बड़वारा में 77, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र उमरियापान में 105 व सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बहोरीबंद में 96 लाभार्थियों को मिलाकर जिले में कुल 437 लोगों का टीकाकरण किया गया।

सोमवार को जिला अस्पताल में वैक्सीनेशन के लिए नगर निगम के ज्यादातर कर्मचारियों को मैसेज गया। बताया जा रहा है वहां एक व्यक्ति के कई बार नाम दर्ज किए गए हैं। डाटा फीडिंग सही ढंग से नहीं होने के कारण मैसेज व अन्य प्रक्रिया बाधित होने से लोग कम पहुंचे।
डॉ. प्रदीप मुढिय़ा, सीएमएचओ

narendra shrivastava Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned