ढांचागत विस्तार में रेलवे की लेटलतीफी बढ़ा रही यात्रियों की परेशानी

एक साल में पूरा नहीं हुआ शेड विस्तार का काम, रात में यात्रियों का सीट तक पहुंचना मुश्किल, गिरकर चोटिल तक हो रहे

- यात्रियों ने कहा रेल अफसरों को नहीं यात्री सुविधाओं की चिंता, कटनी-मुड़वारा रेलवे स्टेशन में अव्यवस्थाओं ने बढ़ाई परेशानी.

By: raghavendra chaturvedi

Published: 12 Jul 2021, 11:54 AM IST

कटनी. शहर के प्रमुख रेलवे स्टेशनों में से एक कटनी-मुड़वारा रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म क्रमांक 3 पर शेड विस्तार का काम एक साल में पूरा नहीं हो सका। इसका सीधा खामियाजा उन यात्रियों को भुगतना पड़ रहा है, जिनकी ट्रेन रात के समय इस प्लेटफार्म पर आती है। आठ जुलाई की रात 12 बजे यात्री 08216 दुर्ग फेस्टिवल स्पेशल ट्रेन कटनी-मुड़वारा रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म क्रमांक 3 पर आई तो कई यात्रियों को ट्रेन से उतरकर बाहर निकलना मुश्किल हो गया।

प्लेटफार्म पर प्रकाश की व्यवस्था नहीं होने से इंजन की ओर के डिब्बे के यात्रियों को अंधेरे के बीच ही प्लेटफार्म पर चलकर ओवरब्रिज तक पहुंचना पड़ा। यात्रियों ने बताया कि इतना ही नहीं काम करवा रहे ठेकेदार ने गिट्टी व दूसरी निर्माण सामग्री प्लेटफार्म पर ही रख दी है। अंधेरे के कारण इसमें कई यात्री गिरकर चोटिल हो रहे हैं।

कोरोना लॉकडाउन में समय मिलने के बाद भी लेटलतीफी
कोरोना संकमण के दौरान लागू लॉकडाउन से पहले शुरू हुए काम के अब तक पूरा नहीं होने से रेलवे के कंस्ट्रक्शन और इंजीनियरिंग विभाग के अफसरों की कार्यशैली पर सवाल उठ रहे हैं। यात्रियों का कहना है कि कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर के दौरान ट्रेनें बंद होने पर इस काम पूरा कर लेना चाहिए, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। अब यात्री ट्रेनों की संख्या धीरे-धीरे बढ़ रही है तो यात्रियों की परेशानी भी बढ़ रही है।

दिल्ली की ओर जाने वाली ट्रेनों का प्रमुख स्टेशन है कटनी-मुड़वारा
शहर में वैसे तो तीन रेलवे स्टेशन हैं। दिल्ली की ओर जाने वाली ट्रेनें कटनी मुड़वारा रेलवे स्टेशन पर ही रुकती हैं। इसमें जबलपुर, बिलासपुर, सतना और सिंगरौली की ओर से आकर दिल्ली व राजस्थान की ओर जाने वाली ट्रेनें प्रमुख हैं।

कोशिश रहती है प्लेटफार्म क्रमांक तीन पर नहीं लगे यात्री ट्रेनें
कटनी मुड़वारा रेलवे स्टेशन के प्रबंधक बृजपाल सिंह ने बताया कि प्लेटफार्म क्रमांक तीन पर शेड विस्तार का काम चल रहा है। काम को लेकर कोशिश रहती है कि इस प्लेटफार्म पर यात्री ट्रेनें नहीं लगे। कई बार प्लेटफार्म एक पर जगह नहीं होने के कारण ऐसी स्थितियां निर्मित होती है कि गाड़ी प्लेटफार्म तीन पर लगानी पड़ती है।
वहीं पश्चिम मध्य रेलवे जोन जबलपुर के सीपीआरओ राहुल जयपुरियार बताते हैं कि प्लेटफार्म क्रमांक तीन पर शेड विस्तार का काम कब पूरा होना है और यात्री सुविधाओं के लिहाज से क्या जरुरी है, इस पर संबंधित विभाग से जानकारी ली जाएगी।

raghavendra chaturvedi Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned