26 साल बाद मध्य प्रदेश में नगरीय निकाय चुनाव में हो रहा विलंब

-नगर निकाय चुनाव को वार्ड परिसीमन व आरक्षण में तेजी

By: Ajay Chaturvedi

Published: 02 Aug 2020, 04:38 PM IST

कटनी. मध्य प्रदेश के सभी नगरीय निकायों में पार्षदों, महापौर या नगरपालिका अध्यक्षों का कार्यकाल कुछ ही दिनों में खत्म हो जाएगा। निकाय चुनाव को लेकर सियासी इलाकों में तरह-तरह की चर्चा व्याप्त है। कहा जा रहा है कि 26 साल बाद पहला मौका है जब प्रदेश में समय से नगर निकाय चुनाव नहीं हो रहे। हालांकि इसकी बड़ी वजह राज्य सरकार द्वारा निकाय चुनावों को लेकर की गई तैयारियों का अधूरा होना है। राज्य निर्वाचन आयोग सरकार की हरी झंडी का इंतजार कर रहा है। हालांकि सरकार फिलहाल कोरोना काल में चुनाव से बचना चाहती है। सरकार का चाहना है कि कोरोना के मामले नियंत्रित हो तो निगर निकाय और विधानसभा के उपचुनाव एक साथ कराए जाएं।

लेकिन सूबे की सत्ता से बेदखल कांग्रेस की चाहत है कि जल्द से जल्द नगर निकाय चुनाव हों ताकि वह कम से कम स्थानीय सरकार बनाने में जोरआजमाइश कर सके। जिन वार्डों में भाजपा के पार्षद हैं वहां कांग्रेस का परचम लहराने की रणनीति पर भी काम तेजी से चल रहा है। बता दें कि वर्ष 1994 के बाद यह पहला मौका है जब प्रदेश में नगरीय निकाय चुनाव समय पर नहीं हो पा रहे हैं।

कटनी में वार्ड आरक्षण
इस बीच नगरों में वार्ड परिसीमन का कार्य भी अंतिम चरण में है। कटनी नगरनिगम के 45 वार्डों के आरक्षण की प्रक्रिया पिछले दिनों संपन्ना हुई। कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित आरक्षण प्रक्रिया में वार्ड क्रमांक अनुसूचित जाति के लिए 5, 12, 15, 32, 33, 43 और अनुसूचित जाति महिला 32, 33, 43 आरक्षित किए गए हैं। इसी प्रकार अनुसूचित जनजाति के लिए वार्ड क्रमांक 2, 27, 29 और अनुसूचित जनजाति महिला के लिए वार्ड क्रमांक 27 आरक्षित किया गया है। अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए वार्ड क्रमांक 10, 4, 24, 35, 20, 6, 7, 34, 45, 26, 01 आरक्षित है। अन्य पिछड़ा वर्ग महिला के लिए वार्ड क्रमांक 10, 4, 24, 20, 35, 26 को आरक्षित किया गया है। इसी प्रकार अनारक्षित महिला 39,19,08,31,14,28,03,17, 22,36,18,21 आरक्षित किया गया है। इसके अलावा अन्य वार्ड अनारक्षित हैं। कटनी के 45 वार्ड की आरक्षण प्रक्रिया विधि सम्मत रूप से संपन्ना हुई।

नगर परिषद कैमोर में वार्ड आरक्षण
उधर नगर परिषद कैमोर के 15 वार्ड की आरक्षण प्रक्रिया भी पूरी करा ली गई है। इसके तहत वार्ड क्रमांक 6 मुक्त अनुसूचित जाति के लिए है। वार्ड क्रमांक 5,7,15 अनुसूचित जनजाति के लिए आरक्षित किए गए हैं। इसी प्रकार अनुसूचित जनजाति महिला के लिए वार्ड क्रमांक 5,7 आरक्षित किए गए हैं। वार्ड क्रमांक 10,1,8,12 अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षित किया गया है। अन्य पिछड़ा वर्ग महिला के लिए वार्ड 12,8 आरक्षित है। वार्ड क्रमांक 2, 3, 4, 9, 11, 13, 14 सामान्य मुक्त हैं। वार्ड क्रमांक 2,3,9,14 महिलाओं के लिए आरक्षित हैं।

Show More
Ajay Chaturvedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned