जिले का एक भी सरकारी स्कूल स्वच्छता में नही पा सका पांच सितारा

स्वच्छ विद्यालय पुरस्कार योजना के लिए मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा कराए गए सर्वे से हुआ खुलासा

By: dharmendra pandey

Updated: 08 Apr 2020, 10:01 PM IST

कटनी. स्वच्छता, रख रखाव, पेजयल, शौचालय और भवन के मामले में जिले का कोई भी सरकारी स्कूल फाइव स्टार की श्रेणी में नहीं आया। इसका खुलासा केंद्र सरकार के मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा स्वच्छ विद्यालय पुरस्कार योजना अंतर्गत कराए गए सर्वे से हुआ है। यह सर्वे जिलेभर की 285 स्कूलों में हुआ है। इसमें सभी छह ब्लॉक की 35 स्कूलों को क्रमशरू एक स्टारए 86 को दो स्टारए 157 को तीनए 7 को चार स्टार मिले हैं। यानि जिलेभर की जिन 285 स्कूलों में सर्वे किया गया था उसमें कोई भी स्कूल ऐसा नहीं मिलाए जिसमें पांचों व्यवस्थाएं सही पाई गई हो। बतादें कि स्वच्छ विद्यालय पुरस्कार योजना अंतर्गत मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा स्कूलों में पंाच बिंदुओं को लेकर बीते दो माह पहले सर्वे कराया गया था।
स्वच्छ विद्यालय पुरस्कार योजनाअंतर्गत इन बिंदुओं पर हुआ था सर्वेए निर्धारित थे नंबर
स्वच्छ विद्यालय पुरस्कार योजना अंतर्गत सरकारी प्राथमिक और माध्यमिक शालाओं में पेयजलए शौचालयए भवन की क्षमताए रखरखाव और बच्चों के हाथ धोने की व्यवस्था के आधार पर अंक दिए गए थे। सभी बिंदुओं के अलग.अलग अंक निर्धारित थे। इसमें पेयजल पर 22ए शौचालय 28ए हाथ धुलाई पर 20ए रखरखाव पर 15 और स्कूल में बैठने की क्षमता है या नहीं इस पर 15 अंक निर्धारत किए गए थे।

छह ब्लॉक 285 स्कूलों को मिला एक, दो, तीन व चार स्टार
ब्लॉक एक स्टार दो स्टार तीन स्टार चार स्टार पांच स्टार
बड़वारा 07 25 25 01 00
बहोरीबंद 05 10 19 00 00
ढीमरखेड़ा 04 10 09 02 00
कटनी 01 12 42 01 00
रीठी 06 14 31 00 00
विजयराघवगढ़ 12 15 31 03 00

-स्वच्छ विद्यालय पुरस्कार योजना के लिए कक्षा से 8वीं तक की स्कूलों का सर्वे कराया गया था। इसमें पांच स्टार कोई भी स्कूल नहीं पा सका है। स्कूलों में बेहतर व्यवस्था बनाने का प्रयास किया जाएगा।
आरपी चतुर्वेदी, डीपीसी।

dharmendra pandey
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned