यहां अपनी ही पाइप लाइन को बिछाकर भूला गया नगर निगम..पढि़ए खबर

हैैंडपंप के सहारे प्रेमनगर निवासी, गर्मी शुरू होते ही गहराया जलसंकट, १६०० से अधिक आबादी की बस्ती में नहीं पेयजल सप्लाई

By: mukesh tiwari

Published: 31 Mar 2018, 12:25 PM IST

कटनी. नगरनिगम शहर के सभी वार्डों में अबतक घर-घर पेयजल पहुंचाने में नाकाम रहा है। इन वार्डों में सबसे अधिक समस्या वहां के वाशिंदों को हो रही है जहां गर्मी की शुरूआत में ही हैंडपंप दमतोडऩे लगे हैं। ऐसे ही वार्ड क्रमांक १८ के प्रेमनगर के रहवासी खराब हैंडपंप के सहारे अपनी प्यास बुझा रहे हैं। रहवासी दैनिक कार्यों के लिए उपयोग में आने वाला पानी भी हैंडपंपों से ही लेते हैं। गर्मी की शुरूआत से ही जलस्तर कम हो जाने के कारण अब ये हैंडपंप भी जवाब दे रहे हैं। हैंडपंपों को काफी देर तक चलाने के बाद इनसे पानी निकल रहा है। क्षेत्र में नगरनिगम द्वारा पेयजल सप्लाई के लिए पाइपलाइन बिछाने का कार्य तो करवा दिया गया है, लेकिन अबतक सप्लाई शुरू नहीं हो सकी है।
रहवासियों का कहना है कि गर्मी की शुरूआत में ही नलों से पानी कम आ रहे हैं, ऐसी स्थिति में आने वाले दिनों में समस्या का सामना करना पड़ता है। जानकारी के अनुसार बस्ती में पेयजल व्यवस्था के नाम पर लगभग ८ हैंडपम्प स्थापित हैं और १६०० की जनसंख्या को इन्हीं के भरोसे प्यास बुझानी पड़ती है वहीं गरीब परिवारों की इस बस्ती में सड़क, नाली की व्यवस्था न होने से लोगों को कच्ची सड़कों से ही आवागमन करना पड़ता है।
सार्वजनिक नलों की नहीं व्यवस्था
प्रेमनगर निवासियों का कहना है कि तिलक कॉलेज से लेकर रोशन नगर तक फैली बस्ती में आधे हैंडपम्पों में पानी काफी नीचे है और इस कारण से बड़ी मेहनत के बाद उन्हें पानी मिल पाता है। लोगों का कहना है कि बस्ती में आज तक नगर निगम ने सार्वजनिक नलों की व्यवस्था नहीं की है, जिससे गर्मी से पूर्व ही लोगों को पीने के पानी के लिए परेशान होना पड़ रहा है। हैंडपम्प खराब होने पर भी कई दिनों तक विभाग के कर्मचारियों के न पहुंचने से भी लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।
इनका कहना है...
वार्ड की सभी बस्तियों में मूलभूत सुविधाओं को उपलब्ध कराने के लिए नगर निगम को प्रस्ताव बनाकर दिए हैं। जैसे ही निगम से निर्माण कार्यों की स्वीकृति मिलती है काम ? कराए जाएंगे। यह बात सही है कि अबतक हैंडपंप खनन नहीं करवाए जा सके हैं। लोगों को पेयजल के लिए समस्या का सामना करना पड़ रहा है।
साक्षीगोपाल साहू, पार्षद, वार्ड क्रमांक 18

mukesh tiwari Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned