डीपीसी को भारी पड़ा मुख्यालय में न रहना

बैठक में मौजूद नहीं रहने पर कलेक्टर ने नोटिस जारी कर मांगा जवाब.

By: raghavendra chaturvedi

Published: 20 Nov 2020, 10:16 PM IST

कटनी. बैठक में शामिल नहीं होना और मुख्यालय में नहीं रहना एक अफसर को भारी पड़ गया। सर्व शिक्षा अभियान के जिला समन्वयक (डीपीसी) टीएल बैठक से नदारत रहे तो कलेक्टर ने अधीनस्त से गैरमौजूदगी का कारण पूछा। चूंकि मंगलवार को आयोजित टीएल बैठक दीपोत्सव के तीन दिन की शासकीय अवकाश के बाद थी, ऐसे में इस बैठक में सर्व शिक्षा अभियान के डीपीसी केके डहरिया की गैरमौजूदगी कलेक्टर को नागवार गुजरी।

कलेक्टर एसबी सिंह ने दो टूक कहा कि दीपावली के अवकाश के बाद सभी अधिकारियों को बैठक में रहना चाहिए। उन्होंने डीपीसी की गैरमौजूदगी पर कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। इसके अलावा बिना सूचना के मुख्यालय से बाहर रहने के मामले को भी गंभीर माना, कलेक्टर ने कहा कि अधिकारियों को अपने दायित्वों के प्रति गंभीर रहना होगा।

कलेक्टर ने डीपीसी को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। मंगलवार को बैठक के दौरान डीपीसी के उपस्थित नहीं होने पर कलेक्टर ने दो टूक कहा कि दीपावली की तीन दिन की अवकाश के बाद भी बैठक में अधिकारी नहीं रहेंं तो यह गंभीर बात है।

raghavendra chaturvedi Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned