गांवों में पेयजल की समस्या गंभीर, निजी नलकूपों से बुझ रही प्यास, जिम्मेदार बेखबर

खराब हैंडपंपों के सुधार को लेकर पीएचई विभाग नहीं दे रहा ध्यान, बिजली की भी है गंभीर समस्या

 

By: balmeek pandey

Published: 23 Mar 2021, 10:01 AM IST

कटनी. बहोरीबन्द तहसील मुख्यालय से लगभग 18 किलोमीटर की दूरी पर बहोरीबन्द जनपद की आखिरी ग्राम पंचायत है बुधनवारा इसके बाद जबलपुर जिला की सीमा लगती है। जिसमें उदयपुरा और पोषित ग्राम नयाखेड़ा आता है। यहां के लोगों की आय का मुख्य साधन कृषि और मजदूरी है। आठवीं तक यहां स्कूल है। आगे की पढ़ाई के लिए बच्चों को बचैया जाना पड़ता है। जब यहां लोगों से समस्याएं जानी तो कई गंभीर समस्याएं निकलकर सामने आईं। उदयपुरा निवासी अब्दुल फरीद खान, नशीम शाह, अब्दुल नईम खान, अब्दुल मुवीन खान, रामनारायण सेन, राजू दाहिया, नसीम खान, अलीम खान, मुस्लिम शाह, मैकू आदिवासी, इमरान खान कैय्यूम खान, रप्पू खान ने बताया कि हमारे यहां सबसे बड़ी समस्या पानी और बिजली की है। कहने को तो बहुत से हैंडपंप हैं। पानी किसी में नहीं निकलता। ना ही नल जल योजना है। ग्रामीणों ने कहा कि निजी नलकूप न हों तो आदमी प्यासे मर जाएं।

ग्राम-बुधनवारा, उदयपुरा
जनसंख्या-2238
ग्राम पंचायत-बुधनवारा
तहसील-बाहोरीबन्द
जिला-कटनी

ट्रांसफार्मर भी हैं खराब
ग्रामीणों ने बताया कि चार ट्रांसफार्मर खराब हैं, दो बदले गये हैं, लेकिन अभी तक चालू नहीं किए गए। इसी प्रकार से बुधनवारा निवासी सुरेश पटेल, अवधेश पटेल ,जितेंद्र पटेल, अर्पित रजक, धर्मेंद्र सेन ने बताया कि गांव की खाद्य गोदाम का निर्माण कार्य अधूरा पड़ा है। पूर्व विधायक सौरभ सिंह द्वारा रंगमंच निर्माण के लिए राशि दी गई थी, लेकिन उसका निर्माण कार्य आजतक नहीं हुआ। गांव में नाली भी नहीं बनी। गन्दगी का अंबार लगा है। पानी की बहुत ज्यादा समस्या है।

इनका कहना है
गांव में पेयजल समस्या की सूचना मिली है। मैं उपयंत्री को भेजकर दिखवाता हूूं। पानी के लिए जितने भी यथा सम्भव प्रयास हैं किए जाएंगे। हैंडपंपों का सुधार कराया जाएगा।
एसएल कोरी, अनुविभागीय अधिकारी पीएचइ बहोरीबन्द।

balmeek pandey Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned