ELECTION PLAN -वोट भाजपा को दिया या कांग्रेस को समस्या जस की तस

ELECTION PLAN -वोट भाजपा को दिया या कांग्रेस को समस्या जस की तस

sudhir shrivas | Publish: Sep, 03 2018 10:42:28 AM (IST) Katni, Madhya Pradesh, India

जिलेभर में पांच-पांच बूथ जहां भाजपा और कांग्रेस को सर्वाधिक मत मिले, समस्या सभी स्थानों पर फिर भी बरकरार

कटनी। विधानसभा चुनाव की तैयारी में राजनीतिक पार्टियां बूथ लेवल तक रणनीति बनाने में जुट गई हैं। इन सबके बीच जिले के उन पांच-पांच बूथ पर नजर डालें जहां 2013 के विधानसभा चुनाव में भाजपा व कांग्रेस को सर्वाधिक मत मिले तो आम आदमी की समस्या अब भी जस की तस है। भाजपा को वोट देने वाले टॉप पांच बूथ तो शहर से ही हैं। इसमें तीन बूथ माधवनगर के अलग-अलग वार्ड से हैं। सभी स्थानों पर सडक़ से लेकर सफाई के लिए नागरिक परेशान रहे और जिम्मेदार उन्हें आश्वासन पर आश्वासन देते रहे। माधवनगर में पुनर्वास भूमि पर पट्टा प्रमुख समस्या रहा है। नागरिक समस्या लेकर सडक़ से प्रदेश के सचिवालय तक मांग बुलंद किये, लेकिन समाधान नहीं हुआ। समस्या को लेकर भाजपा के नेता आगे भी आये, जल्द निराकरण करवाने का आश्वासन दिया, लेकिन समस्या नहीं सुलझी। चुनाव में कांग्रेस को जिन पाचं बूथों पर सर्वाधिक वेाट मिले वहां भी लोगों की परेशानी कमोबेश वैसी ही है। रहवासियों का कहना है कि कांग्रेस पार्टी ने उनकी मांगों को लेकर कभी प्रमुखता से आवाज बुलंद नहीं की। खरखरी व ईश्वरीपुरा वार्ड ऐसे रहे हैं। वहीं दो क्षेत्र ऐसे भी हैं जहां कांग्रेस को ज्यादा वोट मिलने के बाद भी विकास के कुछ कार्य हुए हैं। लोगों के सडक़, शिक्षा से जुड़ी जरुरी समस्याएं अभी भी नागरिकों के लिए दिक्कतें पैदा कर रही है।

भाजपा को सर्वाधिक मत मिलने वाले जिले के पांच बूथ

विधानसभा स्थान बूथ क्रं. वोट प्रमुख समस्याएं

मुड़वारा हेमूकालाणी वार्ड 166 801 जगदीश आहूता के घर से सुनील लालवानी के घर सडक़ निर्माण की मांग करते नागरिक थके, पूरी नहीं
मुड़वारा वेंकट वार्ड 91 776 खिरहनी ओवरब्रिज के नीचे अंडरपास का निर्माण कई सालों से हो रहा, अब निर्माण पूरा नहीं
मुड़वारा बाबा नारायण शाह 170 756 सडक़ पर अवारा मवेशियों की समस्या कई सालों से, कह-कह हारे नागरिक समाधान नहीं
मुड़वारा जालपादेवी वार्ड 72 672 हरिजन बस्ती में पेयजल समस्या हर साल गर्मी में विकराल रुप लेती है, अब तक समाधान नहीं
मुड़वारा बाबा नारायण शाह 169 606 गंदगी विकराल समस्या, वार्ड में कई गलियों की सडक़ नहीं बना, मांग के बाद भी निर्माण नहीं

कांग्रेस को सर्वाधिक मत मिलने वाले जिले के पांच बूथ

विधानसभा स्थान बूथ क्रं. वोट प्रमुख समस्याएं

बड़वारा भमका 197 654 पटना गांव से मेन रोड़ तक और बिजौरी गांव में लगातार मांग के बाद भी नहीं बनी सडक़
बड़वारा बड़वारा कला 57 644 आईटीआई की कक्षाएं खोलने की मांग सात से अधूरी, खस्ताहाल ग्रामीण सडक़ें
मुड़वारा ईश्वरीपुरा वार्ड 129 605 मांस बाजार यहां से बाहर स्थापित करने की मांग कई सालों से हो रही समस्या जस की तस
विजयराघवगढ़ बरमानी 208 600 कक्षा आठवीं के बाद बालिकाओं की पढ़ाई रुक जाती है, कई सालों से की जा रही हाईस्कूल की मांग मुड़वारा खरखरी 06 582 खरखरी से भरवारा सडक़ निर्माण की मांग, खस्ताहाल सडक़ के कारण मंडी जाने वाले किसानों को परेशानी

हेमूकालाणी वार्ड में दो सौ मीटर सडक़ निर्माण की आठ साल से ज्यादा समय से कर रहे हैं। यहां गिरने से सास की हड्डी तक टूट गई थी जो अब इस दुनिया में नहीं है। जनप्रतिनिधियों से समस्या बताते थक गए,लेकिन सडक़ नहीं बनी।
मीरा रुपचंदानी गृहणी हेमूकालाणी वार्ड कटनी

हेमूकालाणी वार्ड में दस साल कोई ऐसा काम नहीं हुआ जिसे उपलब्धि माना जाए। सडक़, नाली की समस्या से लोग जूझ रहे हैं। जनप्रतिनिधि निर्माण करवाने को लेकर आश्वासन तो बहुत देते हैं, लेकिन अब तक पूरा नहीं हुआ।
रवि इंदनानी व्यापारी माधवनगर कटनी

बरमानी से मचमचा के बीच अमराडाड़ नाला और बरमानी करेला मार्ग पर मूसरा नाला में पुल निर्माण नहीं होने से इस मार्ग से स्कूल जाने वाले की बारिश में पढ़ाई रुक जाती है। बारिश में बाढ़ के पानी में बहने का खतरा बना रहता है। मांग किये पर पूरा नहीं हुआ।
देहराज सिंह सरपंच बरमानी

शहर के ईश्वरीपुरा वार्ड में मांस बिक्री का मुद्दा हो या बरमानी में हाईस्कूल या नाला निर्माण की समस्या हो। हो सकता है कि पूर्व में इस बात को नहीं उठाया गया हो। ईश्वरीपुरा वार्ड में तो पार्षद भी कांग्रेस का है, हम प्रमुख समस्या को उठाएंगे और पूरा करवाने का पुरजोर प्रयास करेंगे।
मिथिलेष जैन जिलाध्यक्ष शहर कांग्रेस

भाजपा को ज्यादा वोट मिलने वाले वार्ड में काम हुआ या नहीं इस बारे में महापौर या विधायक बेहतर बताएंगे। दोनों ही अपने-अपने क्षेत्र में अच्छा कार्य कर रहे हैं। लोगों की जो भी समस्याएं होगी उनका निदान किया जायेगा।
हरिशंकर गर्ग महामंत्री भाजपा कटनी

Ad Block is Banned