video: हाथियों ने नन्हे मेहमान को कुछ इस तरह से कराया सड़क पार

कटनी जिले के तीन गांव में 35 से ज्यादा हाथियों का मूवमेंट, डेढ़ साल से सीमावर्ती बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व के दो वन परिक्षेत्र में लगातार मूवमेंट.

By: raghavendra chaturvedi

Updated: 06 Apr 2020, 11:45 AM IST

कटनी. छत्तीसगढ़ और मध्यप्रदेश के कई जिलों में अपने तांडव से ग्रामीणों के लिए परेशानी का सबब बने 35 से ज्यादा हाथियों को अब बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व का जंगल रास आ गया है। टाइगर रिजर्व के दो वनपरिक्षेत्र में हाथियों का यह झुंड करीब डेढ़ साल से विचरण कर रहा है। हाथी यहां उन्मुक्त विचरण करते हैं, उनके कुनबे का भी विस्तार हो रहा है।

चार दिन पहले हाथियों का यह समूह बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व की सीमा पार कर कटनी जिले के बरही रेंज के गांव पहुंचे। यहां पहुंचने के दौरान हाथियों के समूह ने सड़कें भी पार की। इस दौरान एक छोटे बच्चे को सुरक्षित सड़क पार करवाने का वीडियो टाइगर रिजर्व के एक स्टॉफ ने पत्रिका को उपलब्ध कराया।

इधर कोरोना संक्रमण का चैन तोडऩे के लिए देशभर में लागू लॉकडाउन के बीच बरही रेंज के तीन गांव में चार दिन से ग्रामीण हाथियो के उत्पात से जूझ रहे हैं। कुआं, करौंदी व कुठिया महगवां गांव में हाथी लगातार फसलों को नुकसान पहुंचा रहे हैं। ग्रामीणों को हाथी के उत्पात से बचाने के लिए वन विभाग ने तीन टीम गठित की है।

रेंजर गौरव सक्सेना बताते हैं कि दो टीम रात में गश्त कर हाथियों के मूवमेंट पर नजर रखती है। गांव की तरफ हाथियों के आने पर पटाखे फोड़कर व आवाज निकालकर भगाने की कोशिश की जाती है। हाथियों से किसानों के फसल का जो भी नुकसान हुआ है उसके लिए राजस्व विभाग द्वारा प्रकरण तैयार किया जाएगा।

raghavendra chaturvedi Bureau Incharge
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned