कोरोना के खतरे के बीच लापरवाही के उदाहरण

रात में खुली शराब दुकान तो लग गई भीड़.

दोपहर में मुख्य चौराहे पर ही नहीं दिखी पुलिस, नागरिक करते रहे भ्रमण.

कटनी. मुख्य रेलवे स्टेशन के बाहर दिलबहार चौक पर चौबीस घंटे पुलिस की तैनाती होती है। यहां कोरोना संक्रमण के खतरे के बीच बुधवार की सुबह 11.15 बजे पुलिस के जवान नहीं दिखे। कलेक्टर द्वारा 24 मार्च की रात 9 बजे तक शराब दुकानों को बंद करने के निर्देश का समय समाप्त होते ही दुकानें खुली तो लोग बड़ी संख्या में शराब लेने पहुंचे। भीड़ में खड़े होकर शराब लिया।
इस संबंध में कलेक्टर एसबी सिंह ने बताया कि लोगों को समझाइश दी जा रही है कि बहुत जरुरी होने पर ही घर से निकलें। जरुरत की सामग्री की कमीं पडऩे पर भी घबराने की जरुरत नहीं है। रोजमर्रा में जरुरत की वस्तुओं की दुकानें नियमित रुप से खुलेंगी।


पत्रिका एडवाइजरी
घबराएं नहीं, जरुरत पर ही घर से निकलें, दुकानें नियमित खुलेंगी
टोटल लॉकडाउन के दौरान लोगों को घबराने की जरुरत नहीं है। रोजमर्रा में जरुरत की वस्तुओं की दुकानें नियमित रुप से खुलेंगी.
- किराने की दुकान.
- राशन की दुकान.
- मेडिकल स्टोर्स.
- पेट्रोल पंप.
- सब्जी की दुकान.

टोटल लॉकडाउन फिर भी भीड़
- सब्जी मंडी.
- स्टेशन पर संचालित मेडिकल की दुकानें.
- झंडा बाजार में खुली दुकानें.
- हीरागंज की दुकानें.
- बरही रोड और दूसरे मार्ग पर सड़क पर लोगों की भीड़.

यह भी जानें
- खजुराहो सांसद वीडी शर्मा ने कोरोना संक्रमण से प्रभावित लोगों की सुरक्षा के लिए संसदीय क्षेत्र के कटनी, पन्ना और छतरपुर जिले में प्रत्येक जिले में एक-एक वेंटीलेटर के लिए सांसद मद से तीस लाख रुपये दिए।
- विजयराघवगढ़ विधानसभा के उबरा व जाजागढ़ गांव के युवा काम करने गोवा जाने के दौरान लॉकडाउन में फंसे तो स्थानीय विधायक संजय पाठक ने उनके ठहरने और भोजन का इंतजाम गोवा में ही करवाया।
- नेपाल से कटनी पहुंचे 10 लोगों का परीक्षण रैपिड रिस्पांस टीम ने किया। कोरेंटाइन में 50 से ज्यादा लोगों को रहने की सलाह, इन पर गुपचुप रखी जा रही नजर।

Corona virus
raghavendra chaturvedi Bureau Incharge
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned