टिप्स को करें फॉलो बोर्ड एग्जाम में लाए अच्छे नंबर

परफेक्ट आंसर देकर परीक्षा में कर सकते हैं टॉप

By: dharmendra pandey

Published: 25 Jan 2020, 12:36 PM IST

कटनी. बोर्ड एग्जाम को महज ड़ेढ़ माह बचे हैं। ऐसे में शहर के स्टूडेंट्स इसकी तैयारी में जुट चुके हैं। हर स्टूडेंट्स अच्छे माक्र्स लाने के लिए प्रयास ाी कर रहा है। ाासकर वो स्टूडेंट्स जो किसी अच्छे स्कूल और कॉलेज में दाािला पाना चाहते हैं वे अधिक से अधिक अंक लाना चाहते हैं। शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय माधवनगर की प्राचार्य विभा श्रीवास्तव का कहना है कि बच्चे अगर अभी से कुछ बातों पर ध्यान देंगे तो यकीनन वे अच्छे माक्र्स इस एग्जाम में ला सकते हैं। उनको कुछ टिप्स फॉलो करना होगा। जिनकी सहायता से आप सवालों के परफेक्ट आंसर दे कर परीक्षा में टॉप भी कर सकते हैं।

महत्वपूर्ण सवालों को पहले हल करें-
पेपर मिलने पर बच्चों को उन सवालों के जवाब सबसे पहले देना चाहिएए जिनको लेकर वे ज्यादा कॉन्फि डेंट हों। क्योंकि परीक्षा में यह जरूरी नहीं होता कि सभी सवालों के जवाब क्रम के हिसाब से दिए जाएं। इसलिए पहले उन्हीं प्रश्नों के उत्तर लिखें जो आपको अच्छे से याद हों। इससे आपका सोचने में लगने वाला समय बच जाएगा और आत्मविश्वास भी बढ़ेगा।

उत्तर को ज्यादा शब्दों में न लिखें
परीक्षा देते समय सवाल का सटीक और कम शब्दों में जवाब लिखने की कोशिश करनी चाहिए। इससे उनका समय बचेगा। परीक्षा में एक-एक मिनट कीमती होता है। उत्तर को ज्यादा बढ़ा-चढ़ा कर लिखने से ज्यादा नंबर नहीं मिलते, ऐसा करके वो अपना समय न खराब करें। कुछ छात्रों का मानना हैं कि अधिक बड़ा उत्तर लिखने से अध्यापक उन्हें ज्यादा अंक देंगे जो कि बिल्कुल गलत है ।

विकल्प वाले सवालों का सोच समझकर चयन करें
परीक्षा में कुछ सवाल ऐसे भी आएंगेए जिनके एक या उससे अधिक विकल्प होंगे। इन विकल्पों में किसी एक सवाल को उत्तर देने के लिए चुनना होता है। ऐसे में उस सवाल को चुने जिसके बारे में आपको काफ ी जानकारी हो। या फि र जिस सवाल का जवाब आपको ठीक से याद हो। कई बार छात्र अक्सर बिना सोचे समझे ऐसे प्रश्न को चुन लेते हैं। जिसको बाद में हल नहीं कर पाते। ऐसा सिर्फ जल्दबाजी और दबाव के चलते होता है। इसलिए छात्र सही प्रश्न का चुनाव करने के लिए सबसे पहले विकल्प में दिए सभी प्रश्नों को ध्यान से पढ़ें।

सभी प्रश्नों को हल जरूर करें
परीक्षा में आने वाले सभी प्रश्नों को हल करने की पूरी ईमानदारी से कोशिश करना चाहिए। क्योंकि यहां कोई नेगेटिव मार्किंग का चक्कर नहीं होता। सभी प्रश्नों को हल करने से कोई नुकसान नहीं है। सवाल का 30 से 40 फ ीसदी जवाब तो आप सही लिखेंगे, जिसके लिए आपको कुछ अंक मिल सकते हैं। यह अंक आपके प्रतिशत को और भी बढ़ाएंगे। प्रश्न की शैली और उसकी मांग को समझने की कोशिश करें। आपको उत्तर याद आता है तो ठीक है नहीं तो अपने दिमाग से उसका जवाब लिखें।

उत्तर पुस्तिका को सजाने में वक्त बर्बाद न करें
कई बार छात्र कई रंग के पेन और पेंसिल से हेडिंग लिखकर और चित्र बनाकर उत्तर पुस्तिका को सजाने-सवारने में समय बर्बाद कर देते हैं। इस कारण उनको दूसरे सवालों के जवाब लिखने का समय नहीं मिलता, लेकिन ऐसा करने से छात्रों को ज्यादा अंक नहीं मिलते। इसलिए सजावट को छोड़कर उत्तर पुस्तिका को व्यवस्थित तरीके से उत्तर लिखकर भरें। परीक्षा में सिर्फ दो ही पेन का इस्तेमाल करें। हेडिंग के लिए काला पेन और बाकी उत्तर के लिए नीला पेन। इसके अलावा कोई भी चित्र बनाने के लिए पेंसिल का ही उपयोग करें।

सवाल-जवाब के बीच उचित स्पेस छोंड़ें-
छात्र सवाल के आंसर लिखते समय बीच में स्थान नहीं छोड़ते हैं। इसके साथ ही लगातार लाइन में उत्तर लिखते जाते हैं। ऐसे करने से कॉपी चेक करने वाला टीचर भी परेशान होता है। इसलिए सवाल के बाद जवाब लिखते समय एक लाइन जरूर छोड़ें। उत्तर लिखते समय लंबा पैरा बनाकर एक लाइन छोड़े और उसके बाद अगली बात दूसरे पैरे से शुरू करें। 15 से 20 शब्दों को एक ही लाइन में दबा-दबा कर लिखने की गलती न करें।

जवाब प्वाइंट्स बनाकर लिखें
सभी सेंटेंस को एक साथ लिखने की बजाय पैराग्राफ में लिखना ज्यादा अच्छा होता है। हर एक उत्तर के पहले और बाद में एक या दो लाइन छोड़कर लिखें। इससे आपको किसी उत्तर में बाद में कुछ और पॉइंट्स जोडऩ़े में आसानी होगी। उत्तर पुस्तिका साफ दिखेगी।

शांत मन के साथ एकाग्र होकर पेपर हल करें
बोर्ड परीक्षा में पहली बार पेपर देते समय छात्र घबराए रहते हैं। ऐसी स्थिति में छात्र को परेशान होने की जरूरत नहीं है। असर उनके दिमाग पर पड़ेगा। जिसके कारण छात्र सवालों का सही जवाब नहीं दे पाएंगे। इसलिए जरूरी है कि छात्र शांत और केंद्रित रहें।

dharmendra pandey Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned