मंहगे शौक के लिए करते थे ठगी, जीते थे लग्जरी लाइफ, दबोचे गए तो हुआ बड़ा खुलासा

एक लाख 70 हजार रुपये हुए जब्त, होटलों में बिताते थे जिंदगी, लग्जरी कार में होता था सफर, चारो ठगों पर दर्ज हुई एफआइआर

By: balmeek pandey

Published: 20 Aug 2021, 10:50 PM IST

कटनी. धोखाधड़ी के धराए चारों आरोपियों के खिलाफ कोतवाली पुलिस ने एफआइआर दर्ज की है। बुधवार को थाना प्रभारी अजय बहादुर सिंह ने मामले का खुलासा किया। इसमें ठगों के पास से 1 लाख 70 हाजर नगदी रुपये व नकली सोने के आभूषण भी बरामद किए हैं। बता दें कि आरोपियों द्वारा जो नकली सोने के आभूषण गिरवी रखे गए थे, उन नकली सोने के आभूषणों में बकायदा हॉलमार्क लगा हुआ था, जिससे सराफा कारोबारी ठगी का शिकार हो रहे थे। पुलिस की जांच में पता चला है कि आरोपी महंगी होटलों में रुककर पैसे उड़ाते थे, बाकायदा जश्न मनाने का वीडियो भी बनाते थे। रुपये खत्म होते ही घटनाओं को अंजाम दे रहे थे।
थाना प्रभारी अजय सिंह ने बताया कि सराफा व्यापारी शरद सोनी मनुश्री ज्वेलर्स सराफा बाजार द्वारा थाना में 17 अगस्त को रिपोर्ट दर्ज कराई गई कि एक व्यक्ति जिसने अपना नाम हिमांशु सिंह जौनपुर उप्र का होना बताया। पैसों की जरूरत होने पर सोने की चैन वजनी करीब 24 ग्राम को गिरवी रख 70 हजार रूपये लेकर गया। इसी तरह आशीष कुमार सोनी रघुनाथ गंज के साथ 12 अगस्त को 50 हजार रुपये की ठगी की। दोनों की शिकायत पर 420 के तहत प्रकरण दर्ज किया गया। सूचना पाकर सराफा व्यापारी रमांकांत सोनी आजाद चौक ने बताया कि उसके साथ भी धोखाधड़ी हुई है।

ये दबोच गए आरोपी
आरोपियों को गणेश चौक स्थित होटल श्री उत्तम पैलेस से पुलिस ने दबोचा। इसमें हिमांशु सिंह साथी सूरज कश्यप, राकेश कुमार सरोज, नितिन सिंह उर्फ धीरज सिंह को गिरफ्तार किया। पूछताछ पर जुर्म करना स्वीकार किए। चारों आरोपियों से अभी पूछताछ जारी है। पुलिस कार्यावाही में उपरोक्त थाना प्रभारी कोतवाली निरीक्षक अजय बहादुर सिंह, उनि अशोक उपाध्याय, प्रआर मुकेश पाण्डे, आर मंसूर हुसैन, दिनेश सेन, मंटू यादव आदि की भूमिका रही। एसपी मयंक अवस्थी ने टीम को पुरस्कृत करने घोषणा की है।

balmeek pandey
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned