लॉकडाउन में एक दिन छोड़कर पहली बार शतक के नीचे पहुंची संक्रमितों की संख्या, लोगों की समझदारी से कम हो रहा वायरस

कोविड-19 की चपेट में आने से 3 लोगों ने फिर तोड़ दम, 24 घंटे में 97 संक्रमित 65 हुए ठीक

By: balmeek pandey

Updated: 11 May 2021, 09:47 PM IST

कटनी. रविवार का दिन एक बार फिर जिलेवासियों के लिए राहत भरा रहा। 9 अप्रैल की शाम 6 बजे से शुरू हुए लॉकडाउन के बाद भी जिले में कोरोना वायरस से पीडि़तों की संख्या में इजाफा हो रहा था। आंकड़ा 4 सैकड़ा के ऊपर तक प्रतिदिन पहुंच गया था। लॉकडाउन में लोगों ने सावधानी बरती और अब धीरे-धीरे आंकड़ा शतक के नीचे आ गया है। लॉकडाउन में एक दिन छोड़कर पहली बार हुआ जब पॉजिटिव मरीजों की संख्या 97 आई है। जिले में वैश्विक महामारी कोरोना वायरस की दूसरी लहर ने लोगों को परेशान कर रखा है। 24 घंटे में फिर तीन लोगों की इस वायरस की वजह से मौत हो गई। इसी के साथ इस वायरस की वजह से जिले में मौतों का आंकड़ा 60 पहुंच चुका है।
प्रशासन द्वारा जारी जिला हेल्थ बुलेटिन के मुताबिक इस दूसरी लहर में अब तक 24 लोगों ने अपनी जान गवां दी है तो वही 1292 लोग अब तक संक्रमित हुए हैं, जिनमें 1101 ठीक होकर सुरक्षित घर लौटे हैं। हेल्थ बुलेटिन के अनुसार पिछले 24 घंटे में 649 लोगों के सैंपल जांच के लिए भेजे गए थे , जिनमें 97 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है तो वहीं दूसरी तरफ 65 ठीक होकर सुरक्षित घर लौटे हैं। इसके अलावा 360 सैंपल की रिपोर्ट अभी आनी बाकी है। विदित है कि पिछले 2 दिनों में 8 लोगों की मौत हो चुकी थी और 24 घंटे में फिर से 3 लोगों की मौत हुई है। मरीजों की संख्या कम आने से जिला प्रशासन ने राहत की सांस ली है।

यह रही लॉकडाउन के बाद मरीजों की स्थिति
जिले में एक पखवाड़े में 100 के ऊपर मरीज सामने आते रहे हैं। 8 मई को 101, मई को 137, 6 मई को 173, 5 मई को 132, 4 मई को 140, 3 मई को 138, 2 मई को 190, एक मई 110, 30 अप्रैल 187, 29 अप्रैल 209, 28 अप्रैल 167, 27 अप्रैल 172, 26 अप्रैल 150, 25 अप्रैल 172, 24 अप्रैल 177, 23 अप्रैल 137 मरीज सामने आए। सिर्फ 17 अप्रैल को 94 मरीज सामने आए थे। 20 अप्रैल को 421 मरीज, 19 अप्रैल को 243 मरीज, 18 अप्रैल को 281 मरीज, 16 अप्रैल को 220 मरीज, 15 अप्रैल को 153 मरीज, 13 अप्रैल को 214 मरीज, 12 अप्रैल को 115, 11 अप्रैल को 175, 10 को 170, 9 को 167 मरीज सामने आए थे।

ऑक्सीजन बेड बड़ाने पर फोकस
जिले में लगातार सामने आ रहे कोरोना संक्रमण को लेकर जिला अस्पताल प्रबंधन द्वारा और बेड बढ़ाने पर फोकस किया जा रहा है। सिविल सर्जन डॉ. यशवंत वर्मा ने बताया कि 25 बेड ऑक्सीजनयुक्त बढ़ाने पर फोकस चल रहा है। अभी 170 कोविड के मरीज उपचाररत हैं, जबकि क्षमता 200 की है। धीरे-धीरे लोग कोरोना को मात दे रहे हैं।

बाजार में नहीं थम रही मनमानी
हालांकि अभी भी बाजार में लोग जमकर मनमानी कर रहे हैं। किराना, सब्जी, फल, दवाएं आदि छोड़कर भी अनावश्यक सामग्री की खरीददारी के लिए बाजार पहुंच रहे हैं। गोली-बिस्किट, चिप्स सहित अन्य सामग्री की जमकर बिकवाली हो रही है। स्थित गंभीर होने के बाद भी लोग बेपरवाही कर रहे हैं।

balmeek pandey
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned