scriptINTUC press conference | महंगाई, बेरोजगारी व निजीकरण के खिलाफ होगा उग्र आंदोलन, कामगारों की आवाज उठाने साथ होंगे | Patrika News

महंगाई, बेरोजगारी व निजीकरण के खिलाफ होगा उग्र आंदोलन, कामगारों की आवाज उठाने साथ होंगे

इंटक अध्यक्ष ने पत्रकार वार्ता में दी जानकारी, जिला इंटक परिषद का आयोजन

कटनी

Published: November 08, 2021 10:34:37 pm

कटनी. जिला इंटक परिषद की रविवार को प्रेसवार्ता आयोजित की गई। इसमें पदाधिकारियों ने मंहगाई, बेरोजगारी पर जमकर भड़ास निकाली। निजीकरण के खिलाफ जमकर बोले। इस दौरान कटनी अध्यक्ष बीएम तिवारी ने नवीन कार्यकारिणी की घोषणा करते हुए दायित्व सौंपे। इस मौके पर आयोजित पत्रकार वार्ता में बीएम तिवारी ने कहा कि जिला इंटक की कार्य विधि को चार भागों में बांटा गया है। उन्होंने कहा कि शीघ्र ही इंटक महंगाई, बेरोजगारी, निजीकरण के विरोध में अजाव बुलंद करेगा। पत्रकार वार्ता में बताया कि हमारा मुख्य एजेंटा शासन की दुराग्रह पूर्ण नीतियों को लेकर है, जिसमें मुख्य रूप से समस्त कर्मचारी वर्ग पर कुठाराघात किया जा रहा है। बड़े-बड़े शासकीय उपक्रमों को पूंजी पतियों के हाथों सौंपा जा रहा है जो हमें पुन: गुलामी की ओर ले जाएगा।
इंटक अध्यक्ष ने आगे कहा कि निजीकरण के बाद अब मनमाने वेतन पर हमें काम करने के लिए मजबूर किया जाएगा। यह लोकतंत्र पर अत्याचार है। निजीकरण और उसकी दासता हम कभी स्वीकार नहीं करेंगे। तिवारी ने कहा कि कटनी जिले में संचालित उद्योगों पर संगठित एवं असंगठित क्षेत्र के कामगार मजदूर जो अपने श्रम से उद्योगपतियों की जेबें भरते हैं, उसका मूल्यांकन एक सामाजिक एवं संवैधानिक नियमों में कहां तक पालन हो रहा है उसकी समीक्षा एवं उन्हें न्याय दिलाना हमारी जिम्मेदारी है।

महंगाई, बेरोजगारी व निजीकरण के खिलाफ होगा उग्र आंदोलन, कामगारों की आवाज उठाने श्रमिक संगठन एक दिन साथ होंगे
महंगाई, बेरोजगारी व निजीकरण के खिलाफ होगा उग्र आंदोलन, कामगारों की आवाज उठाने श्रमिक संगठन एक दिन साथ होंगे

रेलवे-ओएफके जैसा सेक्टर में हो रहा निजीकरण
इस दौरान कहा गया कि सारे श्रमिक संगठन एक दिन हमारे प्लेटफार्म पर आवाज उठाने के लिए साथ होंगे। श्रमिक मजबूत होगा तो देश मजबूत होगा। इंटक अध्यक्ष ने बताया कि हमारी निगाहें शिक्षा, स्वास्थ्य और बैंक के निजीकरण पर हो रही गर्म चर्चाओं पर भी हैं। हम समाज के प्रबुद्ध वर्गों को भी साथ लेकर आगे बढ़ेगे और और सरकार की नीतियों पर जिससे पूरा देश विचलित है विरोध दर्ज कराते रहेंगे। इस दौरान रामनरेश त्रिपाठी, वेस्ट सेंट्रल रेलवे मजदूर संघ के मंडल अध्यक्ष एसएन शुक्ला, केसी रजक, महेंद्र शर्मा आदि ने भी अपनी बात रखी। वरिष्ठ इंटक नेता रमजान भारती, मुस्ताक भाई, हरिशंकर शुक्ला ने भी शासन की कर्मचारी विरोधी नीतियों की जमकर आलोचना की।

ये रहे मौजूद
इस मौके पर बड़वारा विधायक बसंत सिंह, रामनरेश त्रिपाठी, श्याम शर्मा, एसएन शुक्ला, रामखेलावन गर्ग, राजेश दीक्षित, राजा जगवानी, मनु दीक्षित, दिव्यांशु मिश्रा अंशु, विक्रम खंपरिया, सुजीत द्विवेदी, कल्लू बैरागी, डॉ. एके खान, एमएच खान, डीआर सरवटे, मीनाक्षी वल्लवी आदि मौजूद रहीं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

गोवा में कांग्रेस के साथ कोई गठबंधन नहीं, NCP शिवसेना के साथ मिलकर लड़ेगी चुनावAntrix-Devas deal पर बोली निर्मला सीतारमण, यूपीए सरकार की नाक के नीचे हुआ देश की सुरक्षा से खिलवाड़Delhi Riots: दिलबर नेगी हत्याकांड में हाईकोर्ट का बड़ा फैसला, 6 आरोपियों को दी जमानतDelhi: 26 जनवरी पर बड़े आतंकी हमले का खतरा, IB ने जारी किया अलर्टपंजाबः अवैध खनन मामले में ईडी के ताबड़तोड़ छापे, सीएम चन्नी के भतीजे के ठिकानों पर दबिशनंदादेवी ट्रेन के एसी कोच में शॉर्ट सर्किट, धुआं निकलने से मचा हड़कंपRepulic Day Parade 2022: आजादी के 75 साल, 75 लड़ाकू विमान दिखाएंगे कमालLeopard: आदमखोर हुआ तेंदुआ, दो बच्चों को बनाया निवाला, वन विभाग ने दी सतर्क रहने की सलाह
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.