6300 पीएम आवास बनाकर प्रदेश में दूसरे स्थान पर यह जिला, लेकिन पुराने आवासों में फंसा पेंच

गरीबों को पक्की छत मुहैया कराने के लिए चलाई जाने वाली प्रधानमंत्री आवास योजना में कटनी जिला बेहतर स्थान पर है। 6300 आवास पूरे करने के साथ ही कटनी जिला प्रदेश में दूसरे स्थान पर है, जबकि शिवनी पहले स्थान पर है। बता दें कि वित्तीय वर्ष 2019-20 में कटनी जिले को 9 हजार 849 आवासों को बनाने का लक्ष्य प्राप्त हुआ है।

By: balmeek pandey

Updated: 01 Mar 2020, 10:18 PM IST

कटनी. गरीबों को पक्की छत मुहैया कराने के लिए चलाई जाने वाली प्रधानमंत्री आवास योजना में कटनी जिला बेहतर स्थान पर है। 6300 आवास पूरे करने के साथ ही कटनी जिला प्रदेश में दूसरे स्थान पर है, जबकि शिवनी पहले स्थान पर है। बता दें कि वित्तीय वर्ष 2019-20 में कटनी जिले को 9 हजार 849 आवासों को बनाने का लक्ष्य प्राप्त हुआ है। इसके एवज में 9 हजार 800 से अधिक हितग्राहियों को पहली किश्त, 9 हजार 699 हितग्राहियों को दूसरी और 8 हजार 784 हितग्राहियों को तीसरी किश्त जारी हो गई है। 6300 को चौथी किश्त जारी हो गई है। लक्ष्य के अनुसार कटनी ने 63.81 फीसदी आवासों को पूरा कर लिया है। सबसे ज्यादा बेहतर स्थिति रीठी जनपद की है। यहां पर 90.61 प्रतिशत कार्य हो चुका है। जानकारी के अनुसार बड़वारा को 2079 आवास बनाने थे। इनमें से 1110 आवास पूर्ण हो गए हैं। बहोरीबंद में 2068 का लक्ष्य था इसमें से 1098, ढीमरखेड़ा में 2711 आवास बनने थे, इनमें से 1752 आवास पूर्ण हो गए हैं। कटनी में 1279 में से 978, विजयराघवगढ़ में 788 में से 503, रीठी में 948 में से 859 आवास बनकर तैयार हो गए हैं।

 

भारीभरकम बिल से परेशान थे उपभोक्ता, दर्जनों शिकायतों का हुआ मौके पर निराकरण, विधायक और इस पूर्व अधिकारी ने की पहल

 

यह है पुराने आवासों की स्थिति
वित्तीय वर्ष 2016-17 में 11 हजार 911 आवासों का लक्ष्य मिला था। इसमें से 11 हजार 226 आवा पूर्ण हो गए हैं। 684 आवास अभी भी अपूर्ण हैं। 643 आवास ऐसे हैं जो पूर्ण नहीं हो सकते। 658 आवास अभी भी अधूरे हैं। इसी प्रकार वित्तीय वर्ष 2017-18 की स्थिति में 14 हजार 922 आवास बनने थे। इनमें से 14 हजार 219 आवास बन गए हैं। 575 आवास पूर्ण नहीं हो सकेंगे। इसी प्रकार वर्ष 2018-19 में 16 हजार 99 आवास बनने थे। इनमें से 14 हजार 219 आवास बन गए हैं। 477 आवास अभी भी अपूर्ण हैं व 462 आवास ऐसे हैं जो पूर्ण नहीं हो पाएंगे।

इनका कहना है
इस वित्तीय वर्ष में 6300 आवास पूर्ण हो चुके हैं। भौतिक लक्ष्य में प्रदेश में दूसरे स्थान पर कटनी जिला है। एक माह में लक्ष्य पूरा करने प्रयास होंगे। सभी पंचायतों को तेजी से काम करने कहा गया है।
मृगेंद्र सिंह, परियोजना अधिकारी।

balmeek pandey Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned