scriptKatni Nagar Nigam Elcction Final Result independent won | Katni Nagar Nigam Result : न भाजपा, न कांग्रेस, निर्दलीय प्रत्याशी बनीं महापौर | Patrika News

Katni Nagar Nigam Result : न भाजपा, न कांग्रेस, निर्दलीय प्रत्याशी बनीं महापौर

निर्दलीय प्रीति सूरी ने भाजपा प्रत्याशी ज्योति दीक्षित को 5270 वोटों से हराया...

कटनी

Updated: July 20, 2022 02:53:46 pm

कटनी. मध्यप्रदेश में दूसरे चरण में हुए नगरीय निकाय चुनावों की मतगणना में कई जगह पर चौंका देने वाले नतीजे सामने आए हैं। सबसे हैरान कर देने वाले नतीजे कटनी में सामने आए हैं जहां जनता ने भाजपा और कांग्रेस दोनों को किनारे करते हुए एक निर्दलीय प्रत्याशी को शहर का महापौर चुना है। कटनी में निर्दलीय प्रत्याशी प्रीति सूरी ने भाजपा और कांग्रेस दोनों के ही प्रत्याशियों को हराते हुए 5270 वोटों से जीत दर्ज की है।

katni_4.jpg


न भाजपा न कांग्रेस, जनता निर्दलीय प्रत्याशी के साथ
कटनी नगरी निकाय चुनाव को लेकर आठवें राउंड की मतगणना पूरी हो चुकी हैं जिसके बाद निर्दलीय प्रत्याशी प्रीति सूरी ने जीत दर्ज की है। निर्दलीय प्रत्याशी प्रीति संजीव सूरी को 45 हजार 648 मत मिले हैं जबकि भाजपा की ज्योति विनय दीक्षित दूसरे स्थान पर रहीं जिन्हें 40361 वोट मिले। कांग्रेस प्रत्याशी श्रेहा रौनक खंडेलवाल तीसरे स्थान पर रही है जिन्हें कुल 22 हजार 67 वोट मिले। इस तरह से निर्दलीय प्रत्याशी प्रीति सूरी ने 5270 वोटों से अपने निकटतम प्रतिद्वंदी भाजपा प्रत्याशी ज्योति दीक्षित को हराकर के विजय प्राप्त की है।

यह भी पढ़ें

Rewa Nagar Nigam Result : सीएम की 2 सभाओं के बाद भी नहीं बचा बीजेपी का गढ़, 24 साल बाद मिली कांग्रेस को जीत



भाजपा से बागी होकर लड़ा चुनाव हासिल की जीत
बता दें कि महापौर पद के लिए कटनी में 12 प्रत्याशी चुनाव मैदान में थे। जिनमें से BJP की ज्योति बीना दीक्षित और कांग्रेस की श्रेहा रौनक खंडेलवाल के बीच सीधा मुकाबला था लेकिन बीच में BJP की बागी निर्दलीय प्रत्याशी प्रीति सूरी ने बाजी मार ली। इससे पहले कटनी नगर निगम पर पिछले 10 सालों से भाजपा का कब्जा था। कटनी नगर निगम क्षेत्र भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा के संसदीय क्षेत्र में आता है, इस लिहाज से कटनी नगर निगम महापौर पद पर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष की प्रतिष्ठा भी दांव पर लगी हुई थी। वहीं अब महापौर की दौड़ में बीजेपी की हार से पार्टी को झटका लगा है। प्रीति सूरी साल 2009 और 2014 में लक्ष्मीबाई वार्ड से पार्षद रहीं। उस समय यह भाजपा की टिकट पर ही पार्षद रही थीं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

बीजेपी नेता श्रीकांत त्यागी पर बड़ा एक्शन, बुलडोजर से ढहाया जा रहा अवैध निर्माण, मिली लोकेशनMaharashtra Coal Scam: दिल्ली कोर्ट का फैसला- पूर्व कोयला सचिव एचसी गुप्ता को 3 और कंपनी डायरेक्टर को 4 साल की जेलMaharashtra: ‘डबल इंजन’ की सरकार का आम जनता को होगा डबल फायदा, पीएम मोदी ने सीएम शिंदे से किया यह वादाबिहार में सियासी उलटफेर की आंशका, CM नीतीश कुमार ने सोनिया गांधी से की बात, सभी विधायकों को बुलाया पटनाखाटूश्यामजी हादसा: दो शवों की भी हुई शिनाख्त, पीएम मोदी ने जताया दुख, सीएम ने की जांच व मुआवजे की घोषणावेंकैया नायडू को विदाई में पीएम मोदी भावुक, कहा - 'आपके साथ काम करना हमारा सौभाग्य'Bihar Politics: राजद और JDU मिल जाए तो बिहार में आराम से बन सकती है सरकार, जानिए क्या है आंकड़ेCongress: अध्यक्ष बनने के लिए राहुल ने अब तक नहीं की ‘हां’, क्या गहलोत पर दांव खेलेगी कांग्रेस?
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.