scriptLeopard dies after falling in well | VIDEO: कुएं में गिरने से तेंदुआ की मौत, लंग्स में भरा मिला पानी, वन विभाग जांच में जुटा | Patrika News

VIDEO: कुएं में गिरने से तेंदुआ की मौत, लंग्स में भरा मिला पानी, वन विभाग जांच में जुटा

बंदरी गांव के पास खेत में बने असुरक्षित कुएं में गिरा है तेदुआ, वन विभाग, कुंडम परियोजना के अधिकारी सहित डॉक्टरों की टीम पहुंची मौके पर
वन अमले सहित कुंडम प्रोजेक्ट के अधिकारी-कर्मचारियों की सामने आई बेपरवाही

कटनी

Published: March 21, 2022 09:24:51 pm

कटनी. कुंडम परियोजना मंडल के बड़वारा परियोजना परिक्षेत्र क्षेत्र के ग्राम बंदरी गांव के पास और पूरे क्षेत्र में हलचल मच गई जब यह सूचना आई कि कुआं में गिरने से 5 वर्ष के तेंदुआ की मौत हो गई है। जानकारी लगते ही वन विभाग और वन विकास निगम के अधिकारी-कर्मचारी मौके पर पहुंचे और जांच में जुट गए। पानी में डूबने से तेंदुआ की मौत होना बताया जा रहा है, हालांकि पीएम रिपोर्ट आने बाद वास्तविक स्थिति स्पष्ट हो पाएगी।
जानकारी के अनुसार कुंडम परियोजना मंडल के बड़वारा परियोजना परिक्षेत्र के बंदरी गांव का यह मामला है। नन्हू कोल के खेत में बने कुएं में नर तेंदुआ गिर गया, जिससे उसकी मौत हो गई। ग्रामीणों की सूचना पर वन विकास निगम के अधिकारी और वन विभाग के अधिकारी मौके पर पहुंचे और डॉग स्क्वायड भी मौके पर पहुंचा। जांच में जुटा रहा। गए वहीं ग्रामीणों की मानें तो उनके द्वारा विभाग को कई बार सूचना दी गई कि गांव के आसपास तेंदुआ की हलचल है और लगातार ग्रामीण दहशत में भी थे, लेकिन वन विकास निगम के अधिकारियों ने सूचना को गंभीरता से ध्यान नहीं दिया। ग्रामीणों की मानें तो बेपरवाही के कारण कुएं में गिरकर तेंदुआ की मौत हो गई। अनुविभागीय अधिकारी राहुल मिश्रा ने बताया कि प्रथम दृष्टया तेंदुआ की मौत कुएं में गिर कर ही हुई है ऐसा लग रहा है। लेकिन तीन डाक्टरों की टीम द्वारा पोस्टमार्टम कराया गया है। जिसके बाद विस्तृत जानकारी सामने आएगी।

VIDEO: कुएं में गिरने से तेंदुआ की मौत, लंग्स में भरा मिला पानी, वन विभाग जांच में जुटा
VIDEO: कुएं में गिरने से तेंदुआ की मौत, लंग्स में भरा मिला पानी, वन विभाग जांच में जुटा

पीएम के बाद हुआ अंतिम संस्कार
तेंदुए की मौत के मामले में एसडीओ राहुल मिश्रा ने कहा कि तेंदुए के शव को निकालकर पोस्टमार्टम कराया गया है। उसके बाद अंतिम संस्कार कराया गया। बन्दरी गांव में जहां पर यह हादसा हुआ है वह असुरक्षित है। तस्वीरों के अनुसार कुएं में मुड़ेर नहीं है संभवत: इसी वजह से शिकार के लिए भागते समय या फिर पानी की तलाश में तेंदुए की मौत हो जाना बताया जा रहा है।

सामने आई बेपरवाही
वहीं इस हादसे के बाद कुंडम परियोजना के अधिकारी-कर्मचारियों सहित वन अमले की बेपरवाही सामने आई है। संभागीय प्रबंधक ने रोहनिया दौरे के दौरान कहा था कि लगातार बाघ की मूवमेंट पर नजर रखी जा रहा है। ग्रामीण उसके मूमवेंट को प्रभावित न करें। क्षेत्र में कम जाएं। तेंदुआ के दिखने पर तत्काल अमले को सूचना दें, लेकिन तेंदुआ के तीन दिन पुरानी सड़ी गली लाश मिलने से दोनों विभागों की तत्परता की भी पोल खुलकर सामने आ गई है।

तेंदुए की मौत को लेकर खास-खास
- 12 मार्च को संभागीय आयुक्त कुडम परियोजना मंडल जबलपुर सीमा द्विवेदी ने किया था रोहनिया का दौरा, तेंदुआ के मूवमेंट पर विशेष नजर रखने दिए थे निर्देश, फिर भी हो गई मौत।
- नर तेंदुआ की उम्र 4 से 5 साल की बताई जा रही है, कई दिनों से क्षेत्र में कर रहा था चहलकदमी, कई दिन से था गांव में था दहशत का माहौल।
- दो से तीन दिन पुराना बताया जा रहा तेंदुआ का शव, पानी में गल गई थी बॉडी, रोहनिया वाला ही है तेंदुआ अभी यह स्पष्ट नहीं।
- तेंदुए के मूमवेंट को लेकर कहा जा रहा है कि जंगल से खेत नजदीक होने के कारण
जहां तक जंगल जैसा दिखता है उसे घर मानकर चलते हैं वन्यप्राणी।
- आजतक किसी को नहीं पहुंचाया था नुकसान इसलिए वन विभाग व कुंडम परियोजना के अधिकारियों ने नहीं कराया था तेंदुए का रेस्क्यू, नियम में भी नहीं।
- कुआं असुरक्षित होने के कारण हुआ हादसा, कुआं के चारों तरफ मुडेर बनो, या कांटों से ढंकने दिए गए हैं निर्देश, ताकि मानव जीवन के साथ वन्य प्राणी रहें सुरक्षित।

इनका कहना है
तेंदुए की मौत पानी में डूबने से ही प्रतीत हो रही है। पीएम के समय यह बात सामने आई थी कि लंग्स में पानी भरा हुआ है। रिपोर्ट आने के बाद स्थिति स्पष्ट हो जाएगी। कुआं असुरक्षित था, इसलिए लोगों को चाहिए कि मानव जीवन के साथ वन्यप्राणियों की सुरक्षा के लिए जलस्रातों को सुरक्षित करें।
डॉ. गौरव सक्सेना, रेंजर, वन परिक्षेत्र बड़वारा।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Bharat Drone Mahotsav 2022: दिल्ली में ड्रोन फेस्टिवल का उद्घाटन कर बोले मोदी- 2030 तक ड्रोन हब बनेगा भारतपहली बार हिंदी लेखिका को मिला International Booker Prize, एक मां की पाकिस्तान यात्रा पर आधारित है उपन्यासजम्मू कश्मीर: टीवी कलाकार अमरीन भट की हत्या का 24 घंटे में लिया बदला, तीन दिन में सुरक्षा बलों ने मारे 10 आतंकीखिलाड़ियों को भगाकर स्टेडियम में कुत्ता घुमाने वाले IAS अधिकारी का ट्रांसफर, पति लद्दाख तो पत्नी को भेजा अरुणाचलपाकिस्तान में 30 रुपए महंगा हुआ पेट्रोल-डीजल, Pak सरकार को घेरते हुए इमरान खान ने की मोदी की तारीफRenault Kiger: फैमिली के लिए बेस्ट है ये किफायती सब-कॉम्पैक्ट SUV, कम दाम में बेहतर सेफ़्टी और महज 40 पैसे/Km का मेंटनेंस खर्चअजमेर शरीफ दरगाह में मंदिर होने के दावे के बाद बढ़ाई गई सुरक्षा, पुलिस बल तैनातचांदी के गहने-सिक्के की भी हो सकती है हॉलमार्किंग
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.