नाबालिग बच्ची से दुष्कर्म, मेडिकल और बयान दर्ज कराने के दौरान बिग़ड़ी हालत

-पीड़ित के पिता ने पुलिस पर लगाए गंभीर आरोप
-नवागत एसपी ने कहा मामले की होगी जांच, दोषी दंडित होंगे

By: Ajay Chaturvedi

Published: 29 Jan 2021, 04:11 PM IST

कटनी. नाबालिग बच्ची संग दुष्कर्म के बाद मेडिकल और बयान दर्ज कराने के दौरान बच्ची की हालत बिगड़ी। जिला अस्पताल में कराया गया भर्ती। पीड़ित बच्ची को लगातार उल्टी व चक्कर आने की शिकायत पर जिला अस्पताल में भर्ती करवाया गया है।

पीड़ित के पिता के अनुसार 19 जनवरी की शाम 8 बजे वह खेत में अपनी फसल को पानी देने के लिए गया था। घर पर पत्नी व दो बेटियां ही थीं। उसी दौरान रात में बेटी बिना बताए घर से कहीं चली गई। वह जब में सुबह खेत से घर लौटे तो पत्नी ने बताया कि बेटी कहीं चली गई है। इस पर आसपास उसकी तलाश की गई लेकिन वह कहीं नहीं मिली। ऐसे में 20 जनवरी की सुबह करीब 9 बजे पीड़ित के चाचा ने बताया कि बच्ची को पकड़कर गांव का सोनू लोनी (18) कहीं ले जा रहा था जिसे वो पकड़कर पुलिस थाना सिहोरा लाए।

इसके बाद मैं पीड़ित के पिता ढीमरखेड़ा थाने गए तो ढीमरखेड़ा पुलिस सिहोरा थाने ले गई और सिहोरा थाने से नाबालिग बेटी व सोनी लोनी को लेकर पुलिस ढीमरखेड़ा लौटी। इसके बाद पीड़ित के पिता से कहा गया कि मैं रुपयों की व्यवस्था कर लूं ताकि बेटी का इलाज करवाया जा सके। इस तरह पुलिस ने पिता को घर भेज दिया।

पीड़ित के पिता ने आरोप लगाया है कि ढीमरखेड़ा पुलिस, आरोपी सोनू को बचाना चाहती है। उसे ढीमरखेड़ा थाना क्षेत्र से भगा दिया गया है। पीड़ित के पिता ने एसपी को सौंपी शिकायत में दुष्कर्म व अपहरण की रिपोर्ट दर्ज किए जाने की मांग की है। मामला एसपी के संज्ञान में आने के बाद परिजनों की मांग पर पीड़ित बच्ची को महिला थाने भेजा गया।

इस मामले में एसपी मयंकी अवस्थी का कहना है कि मामले में कार्रवाई की जाएगी, जिन्होंने मामले पर कार्रवाई नहीं की, उसकी भी जांच होगी। दोषियों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई होगी।

Show More
Ajay Chaturvedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned