यहां कागजों में कृषि उपज मंडी में पहुंच रही थोक सब्जी.. जानिए कारण

थोक सब्जी, फल विक्रेताओं को पहरुआ मंडी नहीं भेज पा रहा निगम, सड़क किनारे व्यापार करने वालों पर हो रही कार्रवाई

By: mukesh tiwari

Published: 13 Mar 2018, 11:03 AM IST

कटनी. शहर में सड़क किनारे बैठकर सब्जी बेचने वालों को नगर निगम का अमला आए दिन हटाने की कार्रवाई कर रहा है। दूसरी ओर थोक विक्रेताओं को कृषि उपज मंडी परिसर में भेजने की कार्रवाई सिर्फ कागजों तक ही सीमित है। थोक विक्रेता जगह-जगह किसानों से सस्ते दामों में सब्जी लेकर उसे फुटकर विक्रेताओं को अच्छे खासे मुनाफे में बेच रहे हैं। लगभग तीन माह पूर्व शहर के घंटाघर, पुरैनी, माधवनगर, बिलैया तलैया सब्जी मंडी सहित अन्य स्थानों पर सब्जी व फलों का थोक व्यापार करने वालों को कृषि उपज मंडी में स्थान निर्धारित किया गया था। थोक सब्जी मंडी की बकायदा कार्यक्रम आयोजित कर शुरुआत की गई थी। शुभारंभ के बाद से ही मंडी में निर्धारित दोनों शेड खाली पड़े हुए हैं।
नगर निगम को करनी है कार्रवाई
पुरैनी में पूर्व से ही विक्रेताओं द्वारा निजी मंडी में व्यापार संचालन किया जा रहा है तो कई स्थानों पर भी सब्जी खरीदी जा रही है। पूर्व में मामला न्यायालय में था और उसका भी फैसला आने के बाद पहरुआ मंडी मेंं ही सभी थोक व्यापारियों को भेजा जाना है। जिसकी जिम्मेदारी नगर निगम की है। व्यापारी सभी को एकसाथ ले जाने की जिद पर अड़े रहे तो उसके बाद निगम की कार्रवाई शून्य रही। नए निगमायुक्त ने पांच दिन पूर्व थोक व्यापार निर्धारित स्थान पर करने और उसके अलावा सब्जी, फल का थोक काम करते पाए जाने पर कार्रवाई की चेतावनी जारी की है लेकिन उसके बाद से अमला कार्रवाई के लिए आगे नहीं आया है।
इनका कहना है...
थोक का व्यापार करने वालों को मंडी में निर्धारित स्थान पर ही व्यापार करने के आदेश जारी किए गए हैं। यदि उसके बाद भी व्यापार दूसरे स्थानों पर जारी रहता है तो सख्ती के साथ हटाया जाएगा। इसको लेकर तैयारी की जा रही है और प्रशासन की भी मदद कार्रवाई में ली जाएगी।
टीएस कुमरे, आयुक्त नगर निगम

mukesh tiwari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned