अवैध प्लाटिंग कर भू-माफिया ने बिछा दिया सड़कों का जाल, नगर निगम ने निभाई कार्रवाई की औपचारिकता

7 माह पहले 12 से ज्यादा स्थानों पर अवैध कॉलोनी की सीएम तक शिकायत, कार्रवाई के लिए अब मौके पर पहुंच रहे अधिकारी, टाइमकीपर व इंजीनियर को निलंबन का नोटिस.

By: raghavendra chaturvedi

Updated: 24 Jul 2021, 12:10 PM IST

कटनी. भू-माफिया की मनमानी शहर में दिनोदिन बढ़ती जा रही है। नियमों की परवाह किए बगैर जहां मन वहां अवैध कॉलोनी तैयार करने का सिलसिला थम नहीं रहा। खासबात यह है कि ऐसे मामलों में शिकायत के बाद भी नगर निगम के कर्मचारी ठोस कार्रवाई नहीं कर पा रहे हैं। ताजा मामला शुक्रवार को सामने आया। बाल गंगाधर तिलक वार्ड स्थित ट्रांसपोर्ट नगर एस्सार पेट्रोल पंप के समीप खसरा नंबर 341 व 33/1 रकबा 0.539 हेक्टेयर में अवैध कॉलोनी के लिए सड़क तैयार कर प्लॉट बेचने की तैयारी थी।

इस पर कार्रवाई करने के लिए नगर निगम के कर्मचारी दल बल के साथ मौके पर पहुंचे, लेकिन कार्रवाई की औपचारिकता निभाकर लौट आए। भू स्वामी रामकिशोर त्रिपाठी निवासी झिगोदर तहसील नागौद एवं मुख्तार नियुक्त पंकज त्रिपाठी पिता आरपी त्रिपाठी निवसी विराटनगर तहसील रधुराजनगर जिला सतना द्वारा भूमि का विखंडन कर अवैध कॉलोनी का निर्माण मामले में कार्रवाई के दौरान कुछ स्थानों पर सड़क खोदकर नगर निगम अमले ने कार्रवाई की खानापूर्ति कर ली। यहां अवैध कॉलोनी निर्माण के दौरान कच्ची सड़क का जाल बिछाया गया है।

शहर में अवैध कॉलोनी निर्माण के बाद समय रहते कार्रवाई नहीं किए जाने मामले में नगर निगम आयुक्त सत्येंद्र धाकरे ने कार्रवाई की। तत्कॉलीन इंजीनियर पवन श्रीवास्तव (वर्तमान में खंडवा में पदस्थ) और टाइमकीपर सेवक बर्मन को निलंबन का नोटिस जारी किया गया है। आयुक्त ने बताया कि इन कर्मचारियों ने समय रहते अवैध कॉलोनी मामले में ठोस कार्रवाई नहीं की।

शहर में 12 से ज्यादा स्थानों पर नियमों को ताक पर रखकर अवैध कॉलोनी निर्माण की शिकायत नगर निगम से लेकर सीएम तक सीएम हेल्पलाइन में करने वाले राजेश सौरभ नायक बताते हैं कि शिकायत जनवरी व उससे पहले की थी। सात माह के लंबे अंतराल के बाद अब जाकर नगर निगम के कर्मचारी थोड़ी बहुत कार्रवाई कर रहे हैं। बड़ा सवाल यह है कि शहर में भू-माफिया जिस तेजी से मनमानी करते हैं, कार्रवाई उसकी आधी भी नहीं है।

उन्होंने बताया कि आयुक्त को पत्र लिखकर पन्ना मोड़ स्थित मित्तल कॉलोनी, बालगंगाधर तिलक वार्ड में साईं मदिर के पीछे, ट्रांसपोर्ट नगर के पास, कुठला थाने के पीछे, डीएवी स्कूल के पास, पुरैनी बंगला, शिवाजी नगर, शिव नगर, तिलक कॉलेज के पास, बाबाघाट के पास वार्ड क्रमांक 16, महाराणा प्रताप वार्ड, कलेक्ट्रेट के पीछे वार्ड क्रमांक 44 सहित अन्य स्थानों पर अवैध कॉलोनी पर कार्रवाई की मांग की गई है।

raghavendra chaturvedi Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned