12 लाख रुपये की लागत से नगर निगम 58 स्कूलों को देगा प्रोजेक्टर व स्मार्ट एलइडी टीवी

-दो माह से अधिक समय बीत जाने के बाद जागा निगम अमला, प्रस्ताव को मिली अनुमति, अब खरीदी के लिए होंगे टेंडर

 

By: dharmendra pandey

Published: 28 Dec 2019, 09:19 PM IST

कटनी. शहरी क्षेत्र में संचालित 58 सरकारी प्राथमिक, माध्यमिक, हाइस्कूल और हायर सेकंडरी स्कूलों में नगर निगम प्रोजेक्टर व स्मार्ट एलइडी टीवी उपलब्ध कराएगा। इसके लिए निगम प्रशासन को अनुमति भी मिल गई है। अब खरीदी के लिए टेंडर होने की प्रक्रिया बाकी है।
उल्लेखनीय है कि सरकारी स्कूलों में दर्ज कक्षा पहली से 12वीं तक के बच्चों की बैद्धिक और तकनीकी क्षमता में विकास हो, इसके लिए कलेक्टर एसबी ङ्क्षसह ने पहल शुरू की। सरकारी स्कूलों में स्मार्ट क्लास के माध्यम से पढ़ाई कराने के लिए नवाचार किया। इस बीच सरकारी स्कूलों में एलइडी टीवी व प्रोजेक्टर नहीं थे। उपकरण के लिए कलेक्टर ने नगर निगम को शिक्षा उपकर की राशि से व्यवस्था करने के निर्देश दिए। शिक्षा उपकर की राशि से स्मार्ट टीवी उपलब्ध कराने के लिए स्कूल शिक्षा विभाग नगर निगम से को दो से अधिक बार पत्राचार भी कर चुका था। इसके बावजूद नगर निगम उपकरण की व्यवस्था को लेकर कोई दिलचस्पी नहीं दिखाई। स्कूलों में एलइडी टीवी व प्रोजेक्टर नहीं पहुंचने पर पत्रिका ने कलेक्टर के स्मार्ट प्रोजेक्ट पर निगम की नहीं दिलचस्पी, नहीं शुरू हो पाई कक्षाएं शीर्षक से खबर प्रकाशित की। जिसके बाद नगर निगम का अमला हरकत में आया और उपकरण खरीदी को लेकर प्रस्ताव बनाया। नगर निगम के उपयंत्री जेपी बघेल का कहना है कि उपकरण खरीदी को लेकर अनुमति मिल गई है। टेंडर निकाले जाने की प्रक्रिया चल रही है।
6500 से अधिक बच्चों को मिलेगा लाभ-
स्कूल शिक्षा विभाग के अधिकारियों के मुताबिक नगर निगम यदि इन स्कूलों को प्रोजेक्टर या स्मार्ट टीवी मिल जाने से 6500 से अधिक छात्रों को नवीन तकनीक से पढ़ाई करने का लाभ मिलेगा। इसके अलावा उनका बैद्धिक विकास होगा। शहरी व ग्रामीण क्षेत्र की 40 से अधिक हाइस्कूल और हायर सेकंडरी स्कूलों में स्मार्ट कक्षाएं संचालित हो रही है।

इन सरकारी स्कूलों को देनी है सामग्री
शहरी क्षेत्र की जिन 58 प्राथमिक, माध्यमिक, हाइस्कूल व हायर सेकंडरी स्कूल को स्मार्ट टीवा या प्रोजेक्टर दिया जाना है, उसमें शासकीय हाइस्कूल कुठला, शासकीय माध्यमिक शाला धंतीबाई, शासकीय उर्दू माध्यमिक शाला, शासकीय कन्या माध्यमिक शाला सिविल लाइन, शासकीय कन्या माध्यमिक शाला राबर्ट लाइन, कन्या नवीन परिसर, कन्या माध्यमिक शाला सीएलपी पाठक वार्ड, माध्यमिक शाला छपरवाह, माध्यमिक शाला झिंझरी, माध्यमिक शाला कारिन लाइन, माध्यमिक शाला खैबर लाइन, माध्यमिक शाला खिरहनी, माध्यमिक शाला कुठला, माध्यमिक शाला नदीपार, माध्यमिक शाला एनकेजे, माध्यमिक शाला पहरुआ, माध्यमिक शाला वेंकट वार्ड, माध्यमिक शाला केसीएस, माध्यमिक शाला साधूराम, माध्यमिक शाला यशोदाबाई सहित अन्य शामिल है।

-नगर निगम सीमा अंतर्गत आने वाली 58 प्राइमरी, मिडिल, हाइस्कूल व हायर सेकंडरी स्कूलों को शिक्षा उपकर की राशि से निगम को स्मार्ट टीवी व प्रोजेक्टर उपलब्ध कराने के लिए नगर निगम के अधिकारियों से बातचीत की गई है। जिसमें खरीदी को लेकर टेंडर निकाले जाने की बात कहीं जा रही है।
मुकेश दुबे, प्रभारी स्मार्ट क्लास।

dharmendra pandey
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned