video: सिस्टम की जानलेवा लापरवाही, फाल्ट सुधार रहा था लाइनमैन, करंट लगने से खंभे पर ही मौत

कटनी जिले के बसेड़ी गांव के समीप खखरा से पटना के बीच की घटना, फाल्ट सुधारने के दौरान लाइनमैन के पास हेलमेट और दस्ताने भी नहीं थे.

By: raghavendra chaturvedi

Published: 05 Feb 2021, 10:55 AM IST

Katni, Katni, Madhya Pradesh, India

कटनी. बिजली विभाग के केवलरहा फीडर में खखरा से पटना के बीच सिस्टम की जानलेवा लापरवाही सामने आई। यहां परमिट लेकर लाइनमैन फाल्ट सुधार रहा था, तभी अचानक तार पर करंट आ गया। लाइनमैन की खंभे पर ही मौत हो गई। लापरवाही की हद ऐसी कि लाइनमैन के हेलमेट और दस्ताने भी नहीं थे।

4 फरवरी की दोपहर बिजली सप्लाई लाइन में फाल्ट सुधारने के लिए आपूर्ति बाधित करने का परमिट लिया गया था। तभी करंट लगने से फाल्ट सुधार रहे लाइनमैन रंजीत पटैल (30) हरदा की मौके पर ही मौत हो गई।

 

The lineman died on the pillar
IMAGE CREDIT: Raghavendra

घटना के दौरान मौके पर मौजूद रहे सहयोगी लाइनमैन अरविंद मेहरा ने बताया कि परमिट लेकर लाइन सुधार कार्य कर रहे थे, तभी अचानक करंट आने से रंजीत की मौत हो गई। उन्होंने बताया कि परमिट लेने के बाद अमूमन करंट नहीं आती है। बड़ा सवाल यह है कि परमिट के बाद तार पर करंट कैसे आ गया।

 

लाइनमैन की मौत के बाद ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि बिजली विभाग की लापरवाही के कारण लाइनमैन की मौत हो गई। वहीं विभागीय अधिकारियों का कहना है कि इन दिनों कृषि फीडर और उपभोक्ता फीडर में अलग-अलग बिजली आपूर्ति होती है। किसी ग्रामीण ने दोनों सप्लाई को कहीं पर जोड़ दिया होगा और इस कारण तार में अचानक करंट आ गया।

बिजली विभाग के एसइ एलपी खटिक ने बताया कि लाइनमैन के मौत के कारणों की जांच की जा रही है। मृतक के परिजनों को पचास हजार रूपये की तत्कॉलीक सहायता दी गई है। इधर इस पूरे मामले की जांच पुलिस ने भी शुरू की है।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned