सीएम हेल्पलाइन के प्रकरणों को गंभीरता से नहीं लेने पर फटकार

लंबित प्रकरणों के निराकरण में नायब तहसीलदार रविंद्र पटेल का प्रदर्शन रहा खराब.

By: raghavendra chaturvedi

Published: 20 Nov 2020, 10:26 PM IST

कटनी. आमजनों द्वारा प्रकरणों के निराकरण के लिए सीएम हेल्पलाइन में दर्ज करवाई जाने वाली शिकायतों को भी विभाग प्रमुखों द्वारा गंभीरता से नहीं लेने पर कलेक्टर एसबी सिंह ने संबंधितों को फटकार लगाई। समय सीमा प्रकरणों की बैठक में सीएम हेल्पलाईन की समीक्षा के दौरान सहकारिता, आदिम जाति कल्याण सहित 18 विभागों के निराकरण का संतुष्टिपूर्ण प्रतिशत 50 से कम पाया गया।

कलेक्टर ने इसे बढ़ाने के निर्देश देते हुये कहा कि संतुष्टिपूर्ण निराकरण का प्रतिशत न्यूनतम 60 प्रतिशत होना चाहिये। समय सीमा के बाह्य लंबित प्रकरणों के 38 मामलों में अकेले 30 मामले नायब तहसीलदार रविंद्र पटेल से संबंधित है। इसके अलावा 5 मामले पहाड़ी तहसीलदार के लंबित होने के बाद मंगलवार को कलेक्टर एसबी सिंह ने मामले को गंभीरता से लिया और प्रकरणों के त्वरित निराकरण के निर्देश दिए।

बैठक में हांथीपांव और फाईलेरिया रोग को लेकर 20 से 22 दिसम्बर के मध्य प्रत्येक परिवार से सम्पर्क कर आशा, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, स्वयंसेवी एवं स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं द्वारा घर-घर पहुंचकर डीईसी की गोली और एलबेन्डाजोल की गोली खिलाने के निर्देश कलेक्टर ने दिए।

raghavendra chaturvedi Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned