सीटी स्कैन सेंटर चालू कराने एनएसयूआइ कार्यककर्ताओं ने किया आत्मदाह का प्रयास, कई चोटिल, उग्र आंदोलन का देखें वीडियो

जिला अस्पताल के बाहर किया प्रदर्शन, जिला अस्पताल प्रबंधन ने किया ठेकेदार को ब्लैक लिस्टेड करने किया पत्राचार

By: balmeek pandey

Published: 02 Oct 2020, 08:19 AM IST

Katni, Katni, Madhya Pradesh, India

कटनी. जिला अस्पताल में सीटी स्कैन सेंटर चालू कराने की मांग को लेकर गुरुवार दोपहर एनएसयूआइ कार्यकताओं ने जिलाध्यक्ष अंशु मिश्रा के नेतृत्व में आत्मदाह करने का प्रयास किया। एनएसयूआई ने उग्र प्रदर्शन किया। जैसे ही कार्यकर्ताओं ने अपने ऊपर मिट्टी का तेल डालना शुरू किया वैसे ही पहले से मौजूद बड़ी संख्या में पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर पुलिस लाइन भेज दिया। बता दें कि पिछले 3 वर्षों से जिला अस्पताल में सीटी स्कैन सेंटर स्वीकृत है। 1 साल से सीटी स्कैन सेंटर लगाने की प्रक्रिया चल रही है, लेकिन अभी तक उसे स्वास्थ्य प्रबंधन द्वारा पूरा नहीं कराया गया। लापरवाह ठेकेदार पर भी कोई कार्रवाई नहीं की गई। लचर स्वास्थ्य व्यवस्था व सीटी स्कैन सेंटर चालू न होने पर एनएसयूआई जिलाध्यक्ष ने आत्मदाह की चेतावनी दी थी। बता दें कि सीटी स्कैन सेंटर चालू कराने को लेकर स्वास्थ्य विभाग की भी लापरवाही सामने आई है। ठेकेदार पर अब तक कोई कार्रवाई नहीं की गई। सिद्धार्थ एमआरआई सीटी स्कैन सेंटर द्वारा सीटी स्कैन मशीन लगाई जा रही है। 1 साल पहले उन्हें धर्मशाला हैंडओवर कर दिया गया था, इसके बाद भी अब तक चालू नहीं किया गया। मरीजों को प्राइवेट अस्पतालों में बड़ा आर्थिक बोझ पड़ रहा है। सिविल सर्जन डॉ. यशवंत वर्मा ने बताया कि 29 सितंबर को सिविल सर्जन द्वारा ठेकेदार को ब्लैक लिस्टेड करने के लिए पत्राचार किया गया है। इस दौरान पुलिस को भी बल का भी प्रयोग करना पड़ा। इस दौरान अनुविभागीय अधिकारी बलवीर रमण, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक संदीप मिश्रा, नगर पुलिस अधीक्षक शशिकांत शुक्ला, कोतवाली टीआई विजय विश्वकर्मा, विपिन सिंह सहित अन्य बड़ी संख्या में पुलिस बल मौजूद रहा।

खास-खास:
- संगठन के कार्यकर्ताओं द्वारा प्रशासन को 5 दिवस का अल्टीमेटम देकर ठोस कदम उठने की मांग की थी, कार्यवाही ना होने पर जनता के हित में आत्मदाह कर उग्र प्रदर्शन करने को कहा था।
- पुलिस द्वारा किएि गए लाठीचार्ज में तिलक कॉलेज अध्यक्ष अजय खटीक, ब्लॉक अध्यक्ष अंकित सिंघानिया की नाक पर गहरी चोट आइ, अन्य कार्यकर्ता भी चोटिल हुए हैं, तहसीलदार संदीप श्रीवास्तव द्वारा सभी को मुचलके पर किया गया रिहा।
- प्राइवट सीटी स्कैन सेंटरों में जमकर लूट जारी है, एक व्यक्ति का पांच हजार रुपये शुल्क लिया जा रहा है, जिससे गरीब देने में अस्मर्थ है, निजी सीटी स्कैन सेंटरों में शुल्क निर्धारण करने की भी मांग रखी।

इनकी रही उपस्थिति
प्रदर्शन के दौरान मुख्य रूप से युवा कांग्रेस अध्यक्ष मनु दीक्षित, प्रदेश सचिव रौनक खंडेलवाल, पार्षद सक्षिगोपाल साहू, पार्षद चोखे भाई, कमल पांडेय, मो. इसराइल, शुभम मिश्रा, विकास दुबे, अफजल खान, सौरभ द्विवेदी, अभिलेख कुंडे, विपिन तिवारी, सुजीत पटवा सहित बड़ी संख्या में कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned