NSUI ने रोकी एक्सप्रेस ट्रेन, रेलवे ट्रेक पर लेटकर जताया पेट्रोल, डीजल और गैस के बढ़ते दामों का विरोध

मंहगाई के विरोध में एनएसयूआई ने रोकी एक्सप्रेस ट्रेन, कांग्रेस के बंद का शहर में दिखा असर।

By: Faiz

Published: 20 Feb 2021, 05:43 PM IST

कटनी। पेट्रोल, डीजल और रसोई गैस के लगातार बढ़ते दामों को लेकर आज 20 फरवरी 2021 को मध्य प्रदेश कांग्रेस की ओर से विरोध स्वरूप प्रदेशभर में बाजार बंद का आह्वान किया है, जिसका मिला-जुला असर प्रदेशभर में देखा जा रहा है। हालांकि, कटनी जिले में सुबह से लेकर दोपहर तक इसका खासा असर देखने को मिला। वहीं, मूल्यवृद्धि के विरोध में एनएसयूआई के जिला अध्यक्ष ने पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं के साथ मिलकर कटनी रेलवे स्टेशन के अंदर केवड़िया से रीवा जाने वाली एक्सप्रेस ट्रेन को रोक दिया। जिसके चलते रेल यातायात बाधित हो गया था।

 

पढ़ें ये खास खबर- मध्य प्रदेश में पेट्रोल के दाम बेकाबू, इन शहरों में 100 के पार पहुंचे दाम, जानिये आपके शहर की कीमतें

देखें खबर से संबंधित वीडियो...

15 मिनट तक रुकी रही एक्सप्रेस ट्रेन

करीब 15 मिनट तक एक्सप्रेस ट्रेन कटनी स्टेशन पर रुकी रही। ट्रेन रोके जाने की जानकारी जैसे ही रेलवे प्रबंधन को लगी, तो तत्काल ही अधिकारियों द्वारा जीआरपी और आरपीएफ जवानों की एक टीम बनाकर अधिकारी मौके पर पहुंचे। इस दौरान अधिकारियों द्वारा प्रदर्शनकारियों से पटरी से हटने की अपील की गई, लेकिन प्रदर्शनकारी अपनी मांगों को लेकर अड़िग रहे और पटरी पर से हटने से इंकार कर दिया। इसके बाद रेलवे द्वारा आरपीएफ और जीआरपी पुलिस द्वारा हल्का बल प्रयोग करते हुए एनएसयूआई के कार्यकर्ताओं को ट्रेक से खदेड़ा गया। इस बीच पुलिसकर्मियों और एनएसयूआई कार्यकर्ताओं के बीच झड़प भी हुई। फिलहाल , पलिस द्वारा प्रदर्शनकारियों को हिरासत में ले लिया गया है।


शहर में दिखा बंद का खासा असर

कांग्रेस द्वारा मंहगाई के विरोध में प्रदेशभर में बंद का आवाहन किया गया था। इस दौरान सुबह 8 बजे से शहर में बंद की अपील की गई थी। हालांकि शहरभर में लोगों द्वरा स्वेच्छा से बाजारों को बंद रखा। वहीं, जिन इलाकों में बाजार बंद नहीं हुए, वहां कांग्रेस के पदाधिकारी और कार्यकर्ता घूमकर उन बाजारों को बंद करने की अपील कर रहे हैं।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned