३१ मार्च तक सिर्फ विशेष प्रकरणों की ही होगी सुनवाई, भीड़ कम करने बंद किए तीन गेट, एक ही दरवाजे से आ जा सकेंगे लोग

-जिला न्यायालय सहित तहसील न्यायालयों में पहुंचने वाले पक्षकारों को दिया जाएगा सेनेटाइजर

-कोरोना वायरस से एहतियात बरतने हाईकोर्ट से जारी हुई एडवायजरी जिला एवं सत्र न्यायालय मेें हुई लागू

 

By: dharmendra pandey

Published: 19 Mar 2020, 11:00 AM IST

कटनी. जिला एवं सत्र न्यायालय में 13 दिन तक सिर्फ विशेष प्रकरणों की सुनवाई होगी। भीड़ को कम करने के लिए जिला एवं सत्र न्यायालय के तीन दरवाजों को बुधवार को बंद करवा दिया गया है। 31 मार्च तक सिर्फ एक गेट से ही लोग आ जा सकेंगे। कोर्ट में यह व्यवस्था कोरोना वायरस से एहतियात बरतने के लिए की गई है। बतादें कि कोरोना वायरस से एहतियात बरतने मप्र हाईकोर्ट जबलपुर ने सभी जिला न्यायालयों के लिए एडवायजरी जारी की है। हाईकोर्ट से एडवायजरी जारी होते ही बुधवार को इसका असर जिला न्यायालय में देखने को भी मिला। हर दिन भीड़ भाड़ से दिखाई देने वाला जिला न्यायालय परिसर बुधवार को खाली नजर आया। कम लोग ही देखने को मिले। कोर्ट के अधिकांश अधिकारी-कर्मचारी मास्क भी लगाए रहे।
उपलब्ध कराए गए मास्क व सेनेटाइजर-
हाईकोर्ट से एडवायजरी जारी होने के बाद जिला एवं सत्र न्यायाधीश अचल कुमार पालीवाल के मार्गदर्शन में जिला न्यायालय और तहसील न्यायालयों के लिए कमेटी गठित की गई। हर एक खंडपीठ में मास्क व सेनेटाइजर उपलब्ध कराए गए। टंकियों की व्यवस्था कर हाथ धोने के लिए उसमें पानी भरवाया गया। हर जगह साफ-सफाई कराई गई। इसके अलावा पक्षकारों के साथ आने वाली भीड़ को भी प्रवेश नहीं दिया गया। एक व दो व्यक्ति को ही भीतर जाने दिया गया।

गठित हुई कमेटी, करेगी व्यवस्था का संचालन
जिला न्यायालय कटनी-
जिला न्यायालय कटनी में ७ सदस्यीय कमेटी का गठन किया गया है। इसमें विशेष न्यायाधीश एट्रोसिटीज एक्ट अजय प्रकाश मिश्रा को अध्यक्ष बनाया गया है। पंचम अपर जिला न्यायाधीश अनिल कुमार, मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट इंदुकांत तिवारी, जिला रजिस्ट्रार राघवेंद्र पटेल, अधिवक्ता ओपी निगम, एमएल तिवारी और जिला नाजिर राकेश तिवारी को सदस्य बनाया गया है।
व्यवहार न्यायालय विजयराघवगढ़-
व्यवहार न्यायालय विजयराघवगढ़ में व्यवहार न्यायाधीश वर्ग एक राम सहारे राज को अध्यक्ष, अधिवक्ता संघ अध्यक्ष राजेश सोनी, जयदेव मेश्राम को सदस्य बनाया है।
व्यवहार न्यायालय बरही-
व्यवहार न्यायालय बरही में व्यवहार न्यायाधीश वर्ग एक आरपी सेवतिया को अध्यक्ष, अधिवक्ता संघ अध्यक्ष बीबी अवस्थी और विनोद धुर्वे को सदस्य के रूप में शामिल किया गया है।
व्यवहार न्यायालय ढीमरखेड़ा
व्यवहार न्यायालय ढीमरखेड़ा में न्यायाधीश सीएस सैय्याम को अध्यक्ष, राजेश पयासी और मनीष ज्योतिषी को सदस्य बनाया गया है।

Corona virus
Show More
dharmendra pandey
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned