scriptpaddy purchasing, queue outside | लक्ष्य का 99.72 प्रतिशत धान खरीदी फिर भी केंद्र के बाहर किसानों की कतार | Patrika News

लक्ष्य का 99.72 प्रतिशत धान खरीदी फिर भी केंद्र के बाहर किसानों की कतार

धान खरीदी का आज अंतिम दिन, नौ सौ से ज्यादा किसानों को मैसेज के लिए चल रहा पत्राचार.

कटनी

Published: January 15, 2022 02:28:00 pm

कटनी. बरही तहसील अंतर्गत धान खरीदी केंद्र पड़रिया में केंद्र के अंदर किसानों को धान रखने की जगह नहीं मिली तो बाहर सड़क पर ही बोरियों की कतार लग गई। किसानों की परेशानी बताती यह तस्वीर 14 जनवरी की है। किसानों ने बताया कि 10 दिन से ज्यादा समय से धान लेकर केंद्र के बाहर तुलाई का इंतजार कर रहे हैं, लेकिन अब तक धान की तौल नहीं हुई।

Line of sacks on the road outside the paddy procurement center.
पड़रिया धान खरीदी केंद्र के बाहर सड़क पर बोरियों की कतार.

किसानों ने आरोप लगाया कि खरीदी केंद्र प्रभारी की मनमानी से किसान परेशान हैं। 41 किलो 200 ग्राम धान की तुलाई की जाती है। इतना ही नहीं 50 रूपए प्रति क्विंटल किसानों से कमीशन लिया जाता है। तहसीलदार और एसडीएम को शिकायत करने के बाद किसानों की नहीं सुनी जा रही है।

खासबात यह है कि किसानों की यह परेशानी धान खरीदी समाप्ति के एक दिन पहले की है। जिले में 15 जनवरी के बाद से समर्थन मूल्य पर धान खरीदी समाप्त हो जाएगी। इस बीच 14 जनवरी तक स्थिति यह है कि जिलेभर में 102 धान खरीदी केंद्र में निर्धारित लक्ष्य 3 लाख 20 हजार मिट्रिक टन की तुलना में 99.72 प्रतिशत 3 लाख 19 हजार 117 मिट्रिक टन धान की खरीदी हो चुकी है। इसके बाद भी धान खरीदी केंद्रों के बाहर किसानों की कतार व्यवस्था पर सवाल खड़े करती है।

धान खरीदी व्यवस्था से जुड़े जिम्मेदारों की बेपरवाही के कारण जिलेभर में 9 सौ से ज्यादा ऐसे किसान हैं, जो अब तक धान नहीं बेच पाए हैं। इन किसानों को मोबाइल पर मैसेज भी आ गया था, लेकिन बारिश के कारण धान खरीदी दो दिन बंद रहने के साथ ही कई केंद्रों में मैसेज की समयावधि के बीच बारदाना नहीं होने के कारण भी कई किसान धान नहीं बेच पाए। ऐसे किसान परेशान हैं कि शनिवार को अंतिम समय समाप्त होने के बाद उनके धान का क्या होगा।

इस बारे में जिला पंचायत सीइओ जगदीश चंद्र गोमे बताते हैं कि जिलेभर से लगभग 9 सौ किसानों को दोबारा मैसेज भेजने के लिए जानकारी भोपाल भेजी गई है। वहां से निर्देश आते ही ये किसान धान बेच पाएंगे। किसानों की अन्य समस्याओं को दूर किया जा रहा है।

एक नजर अब तक की धान खरीदी पर
- 37 हजार 294 किसानों ने बेची धान.
- 3 लाख 19 हजार 117 मिट्रिक धान बेची.
- 619 करोड़ रूपए का होना है भुगतान.
- 318 करोड़ रूपए का हुआ भुगतान.
- 301 करोड़ का भुगतान शेष.
- 14 हजार 873 किसानों को भुगतान का इंतजार.
- 86 हजार 352 मिट्रिक टन धान परिवहन के लिए शेष.

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

Corona Update: कोरोना ने बनाया नया रिकॉर्ड, 24 घंटे में 3 लाख 47 हजार नए केस, 2.51 लाख रिकवरGhana: विनाशकारी विस्फोट में 17 लोगों की मौत, 59 घायलभारत ने जानवरों के लिए विकसित किया पहला कोरोना वैक्सीन,अब शेर और तेंदुए पर ट्रायल की योजना50 साल से जल रही ‘अमर जवान ज्योति’ आज से इंडिया गेट पर नहीं, राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर जलेगीT20 World Cup 2022: ICC ने जारी किया शेड्यूल, इस दिन होगी भारत-पाकिस्तान की टक्करआज जारी होगा कांग्रेस का घोषणा पत्र, युवाओं के लिए होंगे कई वादे'कुछ लोग देशप्रेम व बलिदान नहीं समझ सकते', अमर जवान ज्योति के वॉर मेमोरियल में विलय पर राहुल गांधीVIDEO: राजस्थान का 35 प्रतिशत हिस्सा कोहरे से ढका, अब रहेगा बारिश और ओलावृष्टि का जोर
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.