तीन महीने में ही गड्ढों में तब्दील हो गई प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना की रोड

-बंधी स्टेशन से सरसवाही मार्ग का मामला
-कदम-कदम पर बड़े-बड़े गड्ढे बन रहे जानलेवा
-बारिश में खुली पीडब्ल्यूडी की पोल

By: Ajay Chaturvedi

Updated: 23 Aug 2020, 09:40 AM IST

बंधी/स्लीमनाबाद. महज तीन महीने में ही गड्ढों में तब्दील हो गया प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत बंधी स्टेशन से सरसवाही मार्ग। आलम यह कि कदम-कदम पर बड़े-बड़े गड्ढे हो गए हैं जिनके चलते रोजाना दुर्घटनाएं हो रही हैं। दो पहिया हो या चार पहिया वाहन इस मार्ग पर चलना दूभर है। यहां तक कि पैदल चलने वाले राहगीर भी अगर थोड़ा सा भी लापरवाह हों तो मुश्किल में पड़ना तय है। इस बाबत कई बार संबंधित विभाग से शिकायत की गई पर कोई फर्क नहीं पड़ा। ऐसे में नागरिक इन गड्ढ़ों में तब्दील सड़क पर चलने को मजबूर हैं।

इस मार्ग की दुर्दशा का आलम यह है कि एक ट्रक (क्रमांक एमपी 20 जी 9286) जो कटनी से सरसवाही ग्राम पंचायत राशन लेकर जा रहा था कि बंधी स्टेशन व मटवारा के मध्य गड्ढे में तब्दील मार्ग पर पलट गया, जिससे ट्रक मैं लोड अनाज की बोरिया बिखरी गईं। अनाज से भरी बोरियां पास के खेत में भरे पानी से भींग गई। अनुमान लगाया जा रहा है कि इस दुर्घटना से ट्रक पर लदा गेंहू व चावल तकरीबन बर्बाद हो गया। ये तो गनीमत रही कि जिस वक्त ट्रक पलटा तब आस-पास कोई राहगीर नहीं था अन्यथा बड़ा हादसा हो सकता था। ट्रक के चालक व परिचालक भी ज्यादा चोटें नहीं आईं।

पीडब्ल्यूडी विभाग नही करा रहा पैचवर्क
क्षेत्रीय नागरिकों, अरविंद पटेल, मोहन विश्वकर्मा, दिनेश पांडेय, रामकेश यादव, रामानुज पांडेय, पवनदीप साहू, सचिन, अरूण विश्वकर्मा, जमील खान विकास असाटी, मंगल साहू, अदित्य दुबे, छवीधर दुबे, बकील हल्दकार, अंनू पटेल, राजेन्द्र हल्दकार आदि ने बताया कि आए दिन बंधी स्टेशन से सरसवाही रोड जिसकी दूरी महज तीन किलोमीटर है। इससे रोजाना सैकड़ों छोटे-बड़े वाहन गुजरते हैं। आए दिन इस रोड पर दो पहिया और चार पहिया वाहन के पहिये इन गड्ढों में फंसते हैं जिससे अनियंत्रित हो कर वाहन पलट जाता है और चालक घायल होते हैं।

दीपक तिवारी, अयोध्या विश्वकर्मा, जितेंद्र हल्दकार, विक्रम हल्दकार, शेख साहिल ने बताया कि बंधी स्टेशन से सरसवाही तक, 'प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना' के तहत सड़क बनी थी। बाद में पीएमजीएसवाइ ने इसे पीडब्ल्यूडी विभाग को सुपुर्द कर दिया। उन्होंने आरोप लगाया कि ठेकेदार ने सड़क निर्माण में गुणवत्ताहीन सामग्री का उपयोग किया था, जिसका परिणाम यह हुआ कि तीन महीने में ही सड़क खस्ताहाल हो गई। बारिश के दौरान सड़क पर जगह जगह बड़े-बड़े गढ्ढे हो गए है, जिससे आवागमन करना दुश्वार हो गया है।

जल्द दुरुस्त होगी सड़क
"ग्राम पंचायत बंधी स्टेशन से सरसवाही तक बने बड़े मार्ग के खस्ताहाल होने के संबंध मे आज जानकारी मिली है। मार्ग का निरीक्षण कर मार्ग को दुरुस्त कराया जाएगा।"-वीके चौबे, एसडीओ पीडब्ल्यूडी।

Ajay Chaturvedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned