पुलिस की निर्भया, देखें वीडियो

Dharmendra Pandey

Updated: 18 Jul 2019, 03:16:26 PM (IST)

Katni, Katni, Madhya Pradesh, India

कटनी. सारा शहर जब रात में चैन की नींद सोता हैं तब पुलिस विभाग की ये अधिकारी सुरक्षा के लिए सड़क पर निकलती है। महिला इंस्पेक्टर का रुतबा भी इनता है कि चोर व लूटेरे सड़क छोड़ देते है। इतना ही रात में गश्त के दौरान यदि कोई लड़की या महिला अकेले मिल जाती है तो उसे बकायदा घर तक पहुंचाती है। शहर में आए दिन चोरी, लूट, मर्डर व डकैती की घटनाएं हो रही है। अपराध के बढ़ते ग्राफ को देखते हुए पुलिस अधिकारियों द्वारा रात में गश्त की जाती है। सप्ताह में हर दिन किसी न किसी पुलिस अधिकारी की ड्यूटी रहती है। इसमें महिला पुलिस अधिकारी भी शामिल हैं। आमतौर पर कोई भी महिला रात में अकेले निकलने में डर महसूस करती है, लेकिन पुलिस विभाग में मौजूद उपनिरीक्षक प्रियंका राजपूत अकेले ही निर्भिक होकर गश्त पर निकलती है।
मर्डर का खुलासा करने में पा चुकी हैं पुरस्कार
जिले में करीब 3 साल से पदस्थ उपनिरीक्षक प्रियंका राजपूत कुछ माह तक बरही थाना में पदस्थ रहीं। इसके बाद स्लीमनाबाद व पुलिस कंट्रोल रूम में भी रही। स्लीमनाबाद में पोस्टिंग के दौरान कौडिय़ा में एक मासूम का बलात्कार कर हत्या कर दी गई थी। जिसका खुलासा करने में उपनिरीक्षक ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। जिस पर उन्हें पुरस्कृत भी किया जा चुका है।

यहां अपने ही परिवार की सुविधा की राह में रोड़ा बने पुलिसकर्मी...जानिए कारण https://www.patrika.com/katni-news/policemen-not-evacuating-disreputable-buildings-4852783/

बेटियों के लिए बनीं मिशाल

महिला उपनिरीक्षक प्रियंका की कार्यशैली बेटियों के लिए भी मिशाल बन चुकी है। वे कहती हैं कि बेटियां आज किसी भी मामले में कमजोर नहीं हैं। पुरुष के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चल रहीं है, चाहे कोई भी क्षेत्र हो। बतादें कि पुलिस विभाग में नौकरी करने के दौरान वे पीएससी की तैयारी भी कर रहीं हैं।

 

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned