scriptpower house, farmer, cut, power company, katni news | कटौती से परेशान किसानों ने पॉवर हाउस में लगा दिया ताला | Patrika News

कटौती से परेशान किसानों ने पॉवर हाउस में लगा दिया ताला

उमरियापान क्षेत्र का मामला, कई गांव के किसानों ने बिजली कंपनी के विरुद्ध प्रदर्शन किया

कटनी

Published: April 23, 2022 06:07:28 pm

कटनी/उमरियापान। उमरियापान क्षेत्र में किसानों को सिंचाई के लिए पर्याप्त बिजली नहीं मिलने से गुस्सा भडक़ गया। नाराज किसानों ने गुरुवार को दशरमन पॉवर हाउस को घेर लिया। बिजली कंपनी के विरुद्ध प्रदर्शन किया। आक्रोशित किसानों ने पॉवर हाउस के मुख्य द्वार पर ताला जड़ दिया। पुलिस और प्रशासन के अधिकारियों ने तालाबंदी से रोकने की कोशिश की तो प्रदर्शनकारियों ने हंगामा कर दिया। काफी देर तक गहमागहमी के हालात बने रहे। पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों के आश्वासन के बाद प्रदर्शनकारी शांत हुए।
बताया जा रहा है कि गोपालपुर, सगवा, कछारगांव बड़ा ,बरहटा, खहरिया बागरी, अतरसूमा, नेगई और सिलौड़ी सहित कई गांवों के किसानों और ग्रामीणों बिजली कटौती से परेशान होकर गुरुवार को दशरमन पहुंचे। बिजली कंपनी के कार्यालय के सामने नारे लगाकर प्रदर्शन किया। आंदोलन की सूचना पर मौके पर बिजली विभाग, पुलिस और प्रशासन के अधिकारी पहुंचे। बिजली विभाग के अधिकारियों ने समझाना चाहा तो किसान बिगड़ गए। पॉवर हाउस का गेट बंद कर ताला लगा दिया। प्रदर्शनकारियों में शामिल किसानों के गांवों में दशरमन पॉवर हाउस के माध्यम से बिजली पहुंचती है। इसलिए उनका गुस्सा पॉवर हाउस पर फूटा।

power house, farmer, cut, power company, katni news
power house, farmer, cut, power company, katni news

खराब हो रही फसलें
प्रदर्शनकारी किसानों का आरोप है कि बिजली नहीं मिलने के कारण वे फसलों की पर्याप्त सिंचाई नहीं कर पा रहे हैं। इसके कारण मूंद, उड़द की फसल सूखने लगी है। खराब हो रही हैं। किसानों की मांग है कि उन्हें सिंचाई के लिए पर्याप्त बिजली उपलब्ध कराई जाएं। काफी देर तक हंगामे के बाद तहसीलदार हरिसिंह धुर्वे, सिलौड़ी में नायब तहसीलदार रैना तामिया के साथ मौके पर मौजूद पुलिस ने किसानों और ग्रामीणों से बातचीत की। बिजली अधिकारियों के साथ बातचीत करके समस्या के निराकरण का आश्वासन दिया। उसके बाद प्रदर्शन समाप्त हुआ।

जल संकट के लिए भी जिम्मेदार ठहराया
प्रदर्शनकारियों ने जल संकट के लिए भी बिजली कंपनी को दोषी ठहराया। ग्रामीणों का आरोप है कि गर्मी में जल स्तर घटने से हैंडपंप हवा उगल रहे है। बिजली गुल रहने के कारण मोटर और बोरवेल का पानी भी नसीब नहीं हो रहा है। गांवों में नलजल योजना भी ठप है। पेयजल के लिए परेशान होना पड़ रहा है। प्रदर्शन की जानकारी लगने पर मौके पर एसडीएम नदीमा शीरी, एसडीओपी मोनिका तिवारी, भाजपा सिलौड़ी मंडल के अध्यक्ष प्रशांत राय भी पहुंचें। समस्याओं के जल्द के निराकरण की बात कही है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

सीएम Yogi का बड़ा ऐलान, हर परिवार के एक सदस्य को मिलेगी सरकारी नौकरीचंडीमंदिर वेस्टर्न कमांड लाए गए श्योक नदी हादसे में बचे 19 सैनिकआय से अधिक संपत्ति मामले में हरियाणा के पूर्व CM ओमप्रकाश चौटाला को 4 साल की जेल, 50 लाख रुपए जुर्माना31 मई को सत्ता के 8 साल पूरा होने पर पीएम मोदी शिमला में करेंगे रोड शो, किसानों को करेंगे संबोधितराहुल गांधी ने बीजेपी पर साधा निशाना, कहा - 'नेहरू ने लोकतंत्र की जड़ों को किया मजबूत, 8 वर्षों में भाजपा ने किया कमजोर'Renault Kiger: फैमिली के लिए बेस्ट है ये किफायती सब-कॉम्पैक्ट SUV, कम दाम में बेहतर सेफ़्टी और महज 40 पैसे/Km का मेंटनेंस खर्चIPL 2022, RR vs RCB Qualifier 2: राजस्थान ने बैंगलोर को 7 विकेट से हराया, दूसरी बार IPL फाइनल में बनाई जगहपूर्व विधायक पीसी जार्ज को बड़ी राहत, हेट स्पीच के मामले में केरल हाईकोर्ट ने इस शर्त पर दी जमानत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.