मॉडल मंडी एक्ट के विरोध में मनाया काला दिवस

मंडी अधिकारी, कर्मचारियों ने मनाया काला दिवस

By: Hitendra Sharma

Published: 06 Jun 2020, 03:43 PM IST

कटनी। मॉडल मंडी एक्ट के विरोध में कृषि उपज मंडी पहरुआ कार्यालय में संयुक्त संघर्ष मोर्चा मध्य प्रदेश मंडी बोर्ड के आवाहन पर सभी अधिकारी कर्मचारियों ने काले कपड़े व काली पट्टी बांधकर काला दिवस मनाया। विरोध प्रदर्शन करते हुए जमकर नारेबाजी की एवं मांगे पूरी करने की मांग रखी। इस दौरान उन्होंने मांग रखी कि प्राइवेट मंडियों के केंद्रों में अधिक कीमत देने की लालच देकर किसानों को बुलाया जाएगा, परंतु अनाज की गुणवत्ता में कमी निकाल कर किसानों को ठग लिया जाएगा। प्राइवेट मंडियों में अनाज की गारंटी होगी और ना ही सही तौल की। प्राइवेट मंडियों में इलेक्ट्रानिक मशीनों के प्रयोग से प्रदेश के लाखों हम्माल, तुलावटी बेरोजगार हो जाएंगे। लाखों लोगों की रोजी-रोटी को मशीन मालिक अकेले खाएगा। लाखों ट्रेडर्स व्यापारियों का कार्य खत्म हो जाएगा। बड़ी कंपनियां छोटे व्यापारियों को कंपनी मालिक अकेले खाएगा। बेरोजगार युवाओं के लिए सरकार नौकरी के अवसर कम हो जाएंगे तो सरकार नियुक्तियां भी नहीं करेगी। मंडी बोर्ड समितियों में कार्यरत अधिकारी कर्मचारियों का पेंशन भोगियों उनके परिजनों को आर्थिक संकट का सामना करना पड़ेगा। मंडी में 80 अधिकारी कर्मचारियों के सामने संकट खड़ा हो जाएगा।

Show More
Hitendra Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned