शिक्षा उपकर की राशि से स्कूलों में कराएं एलइडी व नल कनेक्शन का इंतजाम

शिक्षा उपकर की राशि से स्कूलों में कराएं एलइडी व नल कनेक्शन का इंतजाम
शिक्षा विभाग की समीक्षा करते कमिश्नर।

Dharmendra Pandey | Updated: 11 Oct 2019, 11:01:40 AM (IST) Katni, Katni, Madhya Pradesh, India

15 अक्टूबर तक शाला स्वच्छता सम्मान समारोह का आयोजन, शालेय स्वच्छता व स्मार्ट क्लास की बैठक में कमिश्नर ने दिए निर्देश

कटनी. गुरुवार को जबलपुर संभागायुक्त राजेश बहुगुणा ने संभाग स्तर पर चलाए जा रहे शालेय स्वच्छता कार्यक्रम की समीक्षा की। मेरी शाला-मेरी जिम्मेदारी के निर्धारित कार्यक्रम अनुसार चयनित स्कूलों में समुदाय द्वारा शाला स्वच्छता सम्मान का 15 अक्टूबर तक आयोजन पूर्ण करने के निर्देश दिए। शिक्षा विभाग के अधिकारियों ने बताया कि जिले की 68 विद्यालयों को मेरी शाला-मेरी जिम्मेदारी के तहत चयनित किया गया है। इन शालाओं में शिक्षकों, छात्रों एवं समुदाय द्वारा स्वेच्छा पूर्वक स्वच्छता के कार्यों में योगदान किया जा रहा है। कमिश्नर बहुगुणा ने ग्रामीण क्षेत्रों की स्कूलों में नलजल योजना वाली ग्राम पंचायतों में पंच परमेश्वर योजना के तहत नल कनेक्शन कराने व विभागीय योजनाओं से हैंडपंप लगवाने को कहा। नगरीय क्षेत्रों की शालाओं में नगरीय निकायों द्वारा संग्रहित शिक्षा उपकर की राशि से नल कनेक्शन एवं स्मार्ट क्लास के लिए एलइडी टीवी उपलब्ध कराने का प्रस्ताव तैयार कराने को कहा। उन्होंने कहा कि स्वच्छता ग्राहियों को शाला में आने जाने पर रोक न लगाई जाए। स्कूलों में सीएम हेल्पलाईन का टोल फ्री नम्बर और उस क्षेत्र के हैंडपम्प मैकेनिक का मोबाईल नम्बर लिखवाया जाए। जिससे हैंडपंप खराब होने पर सूचना दी जा सके।

इधर,
आशा कार्यकर्ता अच्छा काम करेंगी तो उन्हें समाज में सम्मान और विश्वास मिलेगा
महिला एवं बाल विकास व स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा बैठक में बोले संभागायुक्त
जबलपुर संभाग केे कमिश्नर राजेश बहुगुणा ने जिला पंचायत सभागार में गुरुवार को महिला एवं बाल विकास विभाग व स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा बैठक की। दोनों ही विभाग के अधिकारियों को मैदानी स्तर मिलजुल कर काम करने को कहा। संस्थागत प्रसव की समीक्षा करते हुए कमिश्नर ने कहा कि सभी डिलेवरी प्वाइंट्स पर स्टाफ उपलब्ध किया जाए। आशा कार्यकर्ता और एएनएम के पद खाली न रहे। प्रक्रियानुसार पूर्ति की जाए। टीकाकरण और संस्थागत प्रसव में अपेक्षा अनुरूप प्रगति लाए। प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना में सभी पात्र परिवारों को गोल्डन कार्ड जारी कराने का विशेष अभियान चलाया जाए। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. निगम ने बताया कि साल 2019-20 में 8918 कुल प्रसव हुए। इसमें से 8653 प्रसव संस्थागत हुए। जिले में 40 हेल्थ एंड वेलनेस सेन्टर स्थापित किए गए हंै। दस्तक अभियान में 417 जन्मजात विकृतियों और 2739 गंभीर एनीमिया के बच्चे चिन्हित किए गए हैं। समीक्षा बैठक के दौरान महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारियों ने बताया कि सितम्बर माह तक अतिकम वजन के 3350 बच्चे पाए गए थे। जिन्हें पोषण की गतिविधियों और एनआरसी के माध्यम से पोषित किया जा रहा है। पोषण पुर्नवास केन्द्र में स्वीकृत बेड की संख्या के अनुरूप 119 प्रतिशत बच्चों को उपचारित किया जा रहा है। अतिकम वजन के बच्चों के परिवारों को कन्वरजेन्स के माध्यम से अन्य आर्थिक गतिविधियों में भी जोड़ा गया है। जिले में सेक्टर स्तर पर एक के मान से 63 आंगनबाड़ी केन्द्रों को आदर्श बनाया गया है। 6 आंगनबाड़ी केन्द्रों को बाल सुलभ केन्द्र बनाया गया है। इस दौरान कमिश्नर ने कहा कि अच्छा कार्य करने वाली आशाओं को पुरस्कृत किया जाए। बैठक के दौरान कलेक्टर एसबी सिंह, जिला पंचायत सीइओ जगदीश चंद्र गोमे व योगेश शर्मा मौजूद

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned