जबलपुर-अंबिकापुर ट्रेन को पटरी पर उतारने में उदासीन रेलवे बोर्ड

यात्री बोले नवरात्रि में होगी परेशानी, रेलवे बोर्ड द्वारा जारी 196 विशेष टे्रनों की सूची में शामिल नहीं जबलपुर-अंबिकापुर एक्सप्रेस.

- कोरोना संकट काल में रेलवे बोर्ड के रवैए से परेशान कटनी से अंबिकापुर के स्टेशनों में सफर करने वाले यात्री.

By: raghavendra chaturvedi

Updated: 16 Oct 2020, 11:43 AM IST

कटनी. कोरोना संकट काल में रेलवे बोर्ड द्वारा चलाई जा रही 196 नवरात्रि पर्व विशेष ट्रेनों में कटनी से अंबिकापुर लाइन पर पडऩे वाले स्टेशनों की उपेक्षा ने यात्रियों की परेशानी बढ़ा दी है। कटनी से उमरिया, शहडोल, अनूपपुर, बिजुरी, कोरिया व अंबिकापुर जिले की यात्रा करने वाले यात्रियों ने बताया कि कटनी से इस लाइन में एक भी सीधी ट्रेन नहीं होने के कारण आए दिन दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

जबलपुर-अंबिकापुर एक्सप्रेस को पटरी पर नहीं उतारने संबंधी रेलवे बोर्ड के निर्णय से परेशान यात्रियों ने बताया कि कटनी से अंबिकापुर तक ट्रेन नहीं होने के कारण किराए पर निजी वाहन लेनी पड़ती है। इसमें कई यात्रियों दस से बाहर हजार रूपये तक वहन करना पड़ रहा है।

यात्रियों ने बताया कि देश के विभिन्न दिशाओं से ट्रेन से कटनी आने के दौरान जितना किराया यात्रियों का नहीं लगता है, उससे कई गुना ज्यादा कटनी से घर पहुंचने में लग रहा है। नवरात्रि पर्व पर कटनी से अंबिकापुर लाइन में ट्रेन नहीं होने से हजारों यात्रियों को आर्थिक समस्या का सामना करना पड़ेगा।

पश्चिम मध्य रेलवे जबलपुर जोन के सीपीआरओ प्रियंका दीक्षित बताती हैं कि जबलपुर-अंबिकापुर एक्सप्रेस ट्रेन चलाने का प्रस्ताव रेलवे बोर्ड को भेजा गया है। वहां से मंजूरी मिलने के बाद ही ट्रेन चलेगी।

Corona virus
raghavendra chaturvedi Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned