तलाक की लगाई थी अर्जी, अचानक हो गई ऐसी बात जिससे पति-पत्नी संग रहने हुए राजी

पुलिस और निवर्तमान पार्षद की पहल से टूटने से बचा परिवार

By: balmeek pandey

Published: 21 Jul 2021, 09:16 PM IST

कटनी. छोटी-छोटी बातों पर विवाद और बढ़ता तकरार परिवार के लिए घातक हो जाता है। विवाह के समय सात जन्मों तक एक-दूजे की कसमें खाने वाले दंपत्ति कुछ दिनों बाद भी टूटने-बिखरने लगते हैं। यदि टूटते परिवार को जोड़ा जाए तो समाज में में नई क्रांति आ सकती है। ऐसा ही कुछ हुआ मंगलवार को। पुलिस और निवर्तमान पार्षद की पहल से एक परिवार टूटने से बच गया। जानकारी के अनुसार बाल गंगाधर तिलक वार्ड क्रमांक एक निवासी शुभम रैदास एवं पत्नि रेनू रैदास के बीच डेढ़ वर्षों पारिवारिक विवाद चल रहा था। आपस में तालमेल ना होने के कारण अलग-अलग रह रहे थे नौबत यहां तक आ गई थी कि तलाक की अर्जी भी कोर्ट में डाल रखी थी।
मंगलवार को कुठला थाना प्रभारी विपिन सिंह एवं सब इंस्पेक्टर प्रियंक राजपूत, पूर्व कांग्रेस पार्षद राजकिशोर यादव ने थाने में बैठकर दोनों की बीच की दूरियां कम करते हुए आपस में राजीनामा कराया। दोनों में सुलह हुई और फिर दोनों ने न लडऩे की सौगंध खाते हुए साथ-साथ रहने का फैसला किया। इस दौरान पुलिस ने दोनों पक्षों के रिश्तेदारों को बुलाया, समझाया। महिला ने कोर्ट केस वापस लेने भी बात कही। पति-पत्नि को रिश्तों की अहमियत बताई गई और परिवार टूटने से बच गया।

balmeek pandey
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned