अनलॉक हुआ बाजार तो रजिस्ट्री ने पकड़ी रफ्तार

4 मई से 10 जून के बीच जिले में हुई 954 रजिस्ट्रियां, मई के 27 दिन में 497, इधर जून के दस दिन में ही 457 रजिस्ट्री.

By: raghavendra chaturvedi

Updated: 14 Jun 2020, 11:52 AM IST

कटनी. कोरोना संकटकाल में दो माह से ज्यादा समय तक बाजार में लॉकडाउन रहने के बाद अब अनलॉक हुआ तो रजिस्ट्री ने भी रफ्तार पकड़ी है। जून माह के दस दिन में ही 457 रजिस्ट्री 2 करोड़ 42 लाख रूपये की हो गई। बताया जा रहा है कि किसी भी माह में दस दिनों में होने वाली रजिस्ट्री में यह सर्वाधिक संख्या है। इससे पहले मई माह में 4 मई से रजिस्ट्री प्रारंभ हुई।

शुरूआत में तो सोशल डिस्टेसिंग और कोरोना एहतियात को ध्यान रखते हुए रजिस्ट्री की रफ्तार कम रही। फिर तेजी आई और मई माह में 497 रजिस्ट्री हुई। जिसकी राशि 4 करोड़ 78 लाख रूपये रही।

जिला पंजीयक नवमीदास चौकीकर बताते हैं कि कोरोना लॉकडाउन के बाद बाजार में जैसे ही स्थितियां सामान्य होती जा रही है, रजिस्ट्री की संख्या में इजाफा हो रहा है। रजिस्ट्री के दौरान पूरा ध्यान रखा जाता है कि लोग सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें। मास्क लगाकर आएं।

जमीनों के भाव में आई कमीं
बाजार से जुड़े सूत्रों का कहना है कि कोरोना संकट के बाद जमीन का भाव कम हुआ है। कई लोग ऐसे भी हैं जो इस मौके का फायदा उठाना चाहते हैं और कम भाव में ज्यादा से ज्यादा प्लाट व ज्यादा रकबा का जमीन ले रहे है।

खेती की ओर बढ़ा रूझान
कोरोना के बाद अब लोगों का रूझान खेती की जमीन पर बढ़ा है। लॉकडाउन के बाद लोगों ने महसूस किया कि जो लोग खेती-किसानी करते हैं और खेत में घर बनाकर निवास करते हैं उन्हे ज्यादा दिक्कतों का सामना नहीं करना पड़ा।

फैक्ट फाइल
- 954 रजिस्ट्री 7 करोड़ 20 लाख 66 हजार 252 रुपये की 4 मई से 10 जून के बीच हुई।
- 497 रजिस्ट्री 4 करोड़ 78 लाख रूपये की मई माह में 4 से 31 तारीख के बीच हुई।
- 457 रजिस्ट्री 2 करोड़ 42 लाख रूपये की एक से दस जून के बीच हुई।
- 912 रजिस्ट्री मई 2019 और 1231 रजिस्ट्री जून 2019 में कटनी में हुई थी।

Corona virus
raghavendra chaturvedi Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned