मौका मुआयना किए बिना पुराने स्टीमेट पर स्वीकृत कर दी करोड़ों रुपये की सड़क

हिरवारा गांव में नाली का निर्माण नहीं होने पर हुआ खुलासा, अब इंजीनियर कह रहे रिवाइज स्टीमेट होगा जारी.

छपरवाह-देवरीहटाई सड़क निर्माण में सामने आई इंजीनियरों की बड़ी लापरवाही.

कटनी. छपरवाह से देवरीहटाई के बीच पीडब्ल्यूडी विभाग के इंजीनियरों ने मौका मुआयना किए बिना ही पुराने स्टीमेट के आधार पर करोड़ों रुपये की लागत से सड़क निर्माण के राशि स्वीकृत करवा दी। इतना ही नहीं सड़क का निर्माण भी शुरू कर दिया। इंजीनियरों की मनमानी का खुलासा तब हुआ जब हिरवारा गांव में सड़क निर्माण के दौरान नाली का निर्माण नहीं हुआ। स्थानीय ग्रामीणों ने निर्माण का विरोध किया तो ठेकेदार ने कहा कि स्टीमेट में ही नाली नहीं है।

मामला कलेक्टर के पास पहुंचा और कलेक्टर ने इंजीनियरों से जवाब मांगा तो पता चला कि पुराने स्टीमेट के आधार पर सड़क स्वीकृत कर दी गई। गड़बड़ी का खुलासा होने के बाद पीडब्ल्यूडी विभाग के इंजीनियर बैकफुट पर हैं। रिवाइज स्टीमेट जारी कर नाली निर्माण करवाने की बात कह रहे हैं।

सड़क निर्माण के दौरान स्टीमेट बनाने में इंजीनियरों की बेपरवाही के कारण नहर के गुजरने के दौरान आवागमन में परेशानी होगी। नागरिकों ने बताया कि छपरवाह से देवरीहटाई के बीच तीन से ज्यादा स्थानों पर सड़क की चौड़ाई कम है। नहर के उपर चौड़ाई कम होने से दुघर्टना की आशंका बनी रहेगी।

पीडब्ल्यूडी के एसडीओ अभिषेक सिंह ने बताया कि छपरवाह से देवरीहटाई सड़क की राशि पूर्व के अधिकारियों के समय में हुआ था। स्टीमेट में नाली नहीं है। नहर के पास सड़क की चौड़ाई नहीं बढ़ाई गई है। इसके लिए रिवाइज स्टीमेट जारी कर काम करवाएंगे।

यह भी जानें...
- 13.5 किलोमीटर लंबाई में बन रही है छपरवाह-देवरीहटाई सड़क।
- एनबीडी योजना के फेज चार में हो रहा निर्माण।
- स्टीमेट कहीं और का और सड़क निर्माण कहीं और स्वीकृत किए जाने के आरोप।
- आबादी के अंदर सड़क की उंचाई ज्यादा है। लोग कह रहे बारिश के दिनों के घरों में भरेगा पानी।

raghavendra chaturvedi Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned