यहां पीएम आवास को लेकर फैली ऐसी अफवाह कि कलेक्टर को करना पड़ा ये काम...

यहां पीएम आवास को लेकर फैली ऐसी अफवाह कि कलेक्टर को करना पड़ा ये काम...

mukesh tiwari | Publish: Sep, 05 2018 12:17:29 PM (IST) Katni, Madhya Pradesh, India

लाड़ली लक्ष्मी के बाद अब पीएम आवास मेंं राशि मिलने अफवाह, सोशल मीडिया पर रजिस्टे्रशन कराने भेजे जा रहे मैसेज, कलेक्टर ने कहा फर्जी है मैसेज

कटनी. डेढ़ माह पूर्व लाड़लियों को शादी की उम्र होने पर लाखों रुपये मिलने के सोशल मीडिया पर चले मैसेज के बाद कागज पोस्ट करने सैकड़ोंं अभिभावकों की कतार शहर से लेकर ग्रामीण क्षेत्र के पोस्ट आफिसों में लग गई थी। अब एक बार फिर से प्रधानमंत्री आवास योजना में पंजीयन कराने और उसके जरिए खाते में 12 हजार रुपये आने का मैसेज सोशल मीडिया में दो दिन से वाइरल हो रहा है। जिसमें पंजीयन कराने और राशि पाने के लिए लोग परेशान हैं। लगातार सोशल मीडिया पर चल रहे मैसेज को देखते हुए कलेक्टर ने खुद सोशल मीडिया ग्रुप में फर्जी मैसेज होने और लोगों को इस पर ध्यान न देने का आग्रह किया।
परिवार का नाम जोडऩे लिंक में दिया फार्म
सोशल मीडिया में बकायदा परिवार के सदस्य का नाम योजना की सूची में जोडऩे ऑनलाइन फार्म उपलब्ध कराया गया। जिसमें नाम, मुखिया का नाम, पिनकोड, स्थाई पता सहित राज्य व मोबाइल की जानकारी मांगी गई है। जिसे भरने के साथ ही रजिस्ट्रेशन किया जा रहा है। पंजीयन कराने की अंतिम तिथि 15 सितंबर अंकित की गई है और सूची में नाम जुड़वाने पर फ्री 12 हजार रुपये का चैक देने की बात कही गई है। जिसको लेकर लोग अपने मोबाइलों से पंजीयन कराकर राशि पाने परेशान हैं।
दस लोगों को करना होता है शेयर
मैसेज में पंजीयन की जानकारी भरने के बाद वेरीफिकेशन का आप्शन शामिल किया गया है। जिसे दस लोगों को भेजकर वेरीफिकेशन कराने की सूचना लिंक में दी जाती है। इसके चलते एक व्यक्ति के पंजीयन कराने से वह उसे दस और लोगों को भेज रहा है। लिंक में बकायदा पीएम की फोटो के साथ मैसेज होने से लोग उसे सही मान रहे हैं।
इनका कहना है...
सोशल मीडिया पर जारी मैसेज पूरी तरह से भ्रामक व फर्जी है। राशि के लालच में लोग अपनी जानकारी ऑनलाइन न करें। इसका उपयोग असमाजिक तत्व गलत कार्य के लिए भी कर सकते हैं और दूसरों को भी इससे रोकें। ऐसे मैसेज में लोग भ्रमित न हों, इसके लिए भी लोगों को सूचना दी जा रही है।
केवीएस चौधरी, कलेक्टर

Ad Block is Banned