वीडियो वायरल होकर पहुंचा पिता तक बेटी ने ग्लानि में दे दी जान, दर्दनाक था वह पल देखिये वीडियो

raghavendra chaturvedi | Publish: Oct, 14 2018 11:36:11 AM (IST) Katni, Madhya Pradesh, India

घर से कम्प्यूटर की पढ़ाई के लिए निकली थी, 52 घंटे बाद खदान में भरे पानी में उतराता मिला शव

कटनी. शहर की एक 17 वर्षीय नाबालिग की जान महज इसलिये चली गई कि एक लड़के के साथ आपत्तिजनक फोटो सोशल मीडिया में वायरल हुआ और इसकी जानकारी बालिका के पिता तक पहुंच गई। इधर बालिका को पता चला कि पिता तक वीडियो पहुंच गया है, और उसने ग्लानि में जान दे दी। नाबालिग का शव घर से लापता होने के 52 घंटे बाद खदान में भरे पानी में शनिवार की दोपहर उतराता मिला। जिसने भी इस घटना को आंखो से देखा व बेहद दुखी हुआ। घटना को बेहद दर्दनाक बताया।
माधवनगर थाना प्रभारी मनमोहन बघेल ने बताया कि बालिका 11 अक्टूबर की सुबह 10 बजे घर से कम्प्यूटर की पढ़ाई के निकली। वह शाम तक घर नहीं पहुंची। बालिका के घर नहीं पहुंचने पर परेशान पिता और परिवार के दूसरे सदस्य रात भर तलाश करते रहे, लेकिन कहीं पता नहीं चला। 12 अक्टूबर को भी बेटी का कहीं पता नहीं चला तब माधवनगर थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई गई। पुलिस को वायरल वीडियो भी दिखाया गया। माधवनगर पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपी युवक गुलशन उर्फ आर्यन केवट (21) को हिरासत में लेकर रिमांड पर जेल भेज दिया।
इसके अगले दिन 13 अक्टूबर की दोपहर सिप्पू भाईजान की खदान में बालिका का शव मिला। पुलिस के अनुसार शव को देखकर अनुमान लगाया जा रहा है कि बालिका की मौत पानी में डूबकर हुई है। पीएम रिपोर्ट आने के बाद स्थिति स्पष्ट होगी कि बालिका ने ग्लानि में आत्महत्या की है या फिर किसी ने उसकी हत्या कर दी है।
इस मामले में पुलिस की जांच रविवार को भी जारी रहा। विवेचक ने पोस्ट मार्टम रिपोर्ट की प्रारंभिक जानकारी अस्पताल से प्राप्त कर ली है। रिपोर्ट की समीक्षा की जा रही है। इधर पूरे मामले को लेकर शहर गुस्से में हैं। नागरिकों का कहना है कि बेटियों को भी समझना होगा कि अपनी जान इतनी आसानी से नहीं दें। जीवन में ऐसी स्थितियां कई बार सामने आती है जब सामने अंधकार सा छा जाता है। इसके बाद भी किसी को अपनी जीवन समाप्त नहीं करनी चाहिए। ऐसी चुनौतियों का डटकर सामना करना चाहिए, हम चुनौतियों का सामना करेंगे तभी आगे बेहतर भविष्य और सुखमय जीवन का रास्ता तैयार होगा।

 

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned