scriptSerious negligence deendayal rasoi in katni | पत्रिका एक्सपोज: हर दिन 600 लोगों को भोजन कराने का दावा, सिर्फ दो लोग मिले खाना खाते | Patrika News

पत्रिका एक्सपोज: हर दिन 600 लोगों को भोजन कराने का दावा, सिर्फ दो लोग मिले खाना खाते

दीनदयाल की रसोई में कर्मचारी व ठेकेदार नहीं बता पाए शनिवार को डेढ़ बजे तक कितने लोगों को कराया भोजन
10 रुपए लेकर दिया जा रहा है भोजन, 5 रुपए नगर निगम से ठेकेदार को हो रहा भुगतान, सरकार दे रही खाद्यान
नगर निगम की मिलीभगत से दीनदयाल की रसोई में चल रहा बड़ा खेल, जिम्मेदार बेखबर

कटनी

Published: July 24, 2022 09:08:09 pm

कटनी. शनिवार को दोपहर 12 बजकर 35 मिनट का समय, टेबिल और बेंच पर बैठकर कढ़ी-चावल व रोटी खा रहा सिर्फ एक प्रौढ़, साथ ही जमीन में बैठकर एक अधेड़ कर्मचारी भी अपनी भूख मिटाता हुआ, एक लगभग पांच लीटर के स्टील के डिब्बे में खुला रखा हुआ चावल व प्लास्टिक के टप में खुली रखी हुई कढ़ी व भिनक रहीं मक्खियां...। यह नाजारा था सरकार की सबसे महत्वाकांक्षी योजना 10 रुपए में जरुरतमंदों को भरपेट भोजन कराने वाले 'दीन दयाल की रसोई योजनाÓ का। पत्रिका ने इसकी हकीकत जानी तो स्थिति चौकाने वाली रही। अधेड़ कर्मचारी ने कहा कि 15 से 20 लोग यहां आकर खाना खा चुके हैं, कुछ लोग और आएंगे तो खा जाएंगे। केंद्र में पांच लीटर वाले स्टील के डिब्बे में थोड़ा सा चावल रखा था और टप में रखी थोड़ी सी कढ़ी से लगभग 250 लोगों को खाना खिलाने का दावा किया जा रहा था। यहां पर न तो कोई टोकन दिया जा रहा था और ना ही रजिस्टर का संधारण किया जा रहा था। पोर्टल में ठेकेदार द्वारा की गई एंट्री के अनुसार शुक्रवार को बस स्टैंड में 321 व चौपाटी केंद्र में 313 लोगों को खाना खिलाए जाना बताया गया है।

पत्रिका एक्सपोज: हर दिन 600 लोगों को भोजन कराने का दावा, सिर्फ दो लोग मिले खाना खाते
पत्रिका एक्सपोज: हर दिन 600 लोगों को भोजन कराने का दावा, सिर्फ दो लोग मिले खाना खाते

पुराने आरटीओ कार्यालय में भी मिला सिर्फ एक व्यक्ति
बस स्टैंड की रसोई के कर्मचारी ने कहा कि खाना कम पडऩे पर चौपाटी के पास से मंगाया जाता है। यहां पर दीनदयाल की रसोई का प्रमुख केंद्र है। यहां पर भी प्रतिदिन 300 से अधिक लोगों को भोजन कराने का दावा किया जा रहा है। पत्रिका टीम जब पुराने परिवहन कार्यालय में बनी दीनदयाल की रसोई में दोपहर 1 बजकर 35 मिनट पर पहुंची तो सिर्फ एक व्यक्ति खाना खाते मिला और 15 जूठी थालियां धुलने के लिए पड़ी हुई थीं।

जानकारी मांगने पर सामने आई हकीकत
दीनदयाल की रसोई में एक कर्मचारी ने बताया कि अभी तक 200 के ऊपर लोगों ने खाना खा लिया है, डेढ़ सौ से अधिक लोग और आने की संभावना है। कई बार तो साढ़े तीन सौ के ऊपर संख्या चली जाती है। अब टोकन नहीं देते हैं, मोबाइल में पोर्टल पर खाना जाने वाले व्यक्ति की जानकारी अपलोड करते हैं। एक अन्य कर्मचारी पहुंची और कहा कि 40 से 50 लोग खाना खाकर जा चुके हैं। थोड़ी ही देर में ठेकेदार दीपक मिश्रा पहुंचे और उन्होंने कहा कि डेढ़ सौ लोग खाना खा चुके हैं। किसी के पास वास्तविक आंकड़ा नहीं था कि आखिर कितने लोगों ने खाना खाया है।

नहीं दिखा मॉनीटरिंग का कोई सिस्टम
दीनदयाल की रसोई में लोगों को क्या खाना खिलाया जा रहा और कितने लोगों को खिलाया गया इसकी नगर निगम व प्रशासन द्वारा कोई निगरानी नहीं हो रही। नगर निगम के सिटी मिशन मैनेजर यश रजक नोडल अधिकारी बनाए गए हैं। जब पत्रिका ने इनसे बात की तो कहा कि प्रतिदिन निगरानी नहीं हो पाती, कभी-कभार देख लेते हैं। ठेकेदार दीपक मिश्रा के द्वारा जो बिल पेश किया जाता है वह पूरा पास नहीं किया जाता। उसमें हम कुछ कटौती कर देते हैं। अभी तीन माह का भुगतान रुका हुआ है। केंद्र में बमुश्किल 50 से 100 व्यक्ति के लिए ही खाना बना था। कर्मचारियों ने कहा कि लोग नहीं आते तो खाना फेंकना पड़ता है, इसलिए कम बनाते हैं।

ऐसे समझें खर्च का गणित
इस योजना के तहत ठेकेदार मिश्रा द्वारा 10 रुपए भोजन करने वाले से लिया जा रहा है। इसके बाद 5 रुपए प्रति व्यक्ति नगर निगम से भुगतान प्राप्त किया जा रहा है। सरकार के द्वारा खाद्यान अलग से दिया जाता है। प्रति व्यक्ति के मान से 40 ग्राम चावल व 100 ग्राम के मान से गेहूं दिया जा रहा है।

खास-खास
- साढ़े छह सौ से अधिक लोगों को प्रतिदिन भोजन कराने का दावा कर रहे ठेकेदार, मौके पर मिले दो।
- नगर निगम के अनुसार दोनों केंद्र मिलाकर ढाई सौ लोग ही खा रहे खाना, बिल के समय ही होती है निगरानी।
- सुबह 10 बजे से लेकर 3 बजे तक लोगों को कराया जाता है भोजन, ढाई सौ लोगों की है एक केंद्र में लिमिट।
- शनिवार को कितने लोगों ने दोनों केंद्र में दोपहर डेढ़ बजे तक खाया है खाना, नहीं रही ठेकेदार के पास जानकारी।
- बस स्टैंड के रैन बसेरा में बनी दीनदयाल की रसाई में लगे हैं सिर्फ दो टेबल, पानी का भी नहीं रहता इंतजाम।
- चौपाटी समीप बने केंद्र में नहीं हैं कोई व्यवस्था, बारिश का भर रहा पानी, रसोई के प्लेटफार्म व खाने में गिरता है पानी।
- बारिश से भट्टी व सामग्री को बचाने में जुटे रहे केंद्र के कर्मचारी, पूरे परिसर में बहता रहा पानी।
- कटनी में 26 फरवरी 2021 से चल रही है पं. दीनदयाल की रसाई योजना, जमकर चल रहा घालमेल।

वर्जन
दीनदयाल की रसोई में जरुरतमंदों को 10 रुपए में भरपेट भोजन कराए जाने की योजना है। प्रतिदिन कितने लोगों को भोजन कराया जा रहा है, इसकी रिकॉर्ड संधारित हो रहा होगा। यदि मनमानी चल रही है तो इसकी जांच कराएंगे। सिटी मिशन मैनेजर इसकी निगरानी कर रहे हैं उनसे भी पूछताछ की जाएगी।
सत्येंद्र सिंह धाकरे, आयुक्त नगर निगम।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

प्रधानमंत्री मोदी आज गोवा में ‘हर घर जल उत्सव’ को करेंगे संबोधितकर्नाटक की राजनीति: येडियूरप्पा के लिए भाजपा ने क्यों बदला अलिखित नियमदिग्विजय सिंह का बड़ा बयान, बिल्डरों के साथ मिलकर कृषि कॉलेज की जमीन को बेच रहे अफसर-नेतापंजाब के अटारी बॉर्डर के पास दिखा ड्रोन, BSF की फायरिंग के बाद पाकिस्तान की तरफ लौटाविश्व कुश्ती चैंपियनशिप में प्रियांशी ने जीता कांस्यकौन हैं IAS राजेश वर्मा, जिन्हें किया गया राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू का सचिव नियुक्त?IND vs ZIM: शिखर धवन और शुभमन गिल की शानदार बल्लेबाजी, भारत ने जिम्बाब्वे को 10 विकेट से हरायापटना मेट्रो रेल के भूमिगत कार्य का CM नीतीश कुमार ने किया उद्घाटन, तेजस्वी यादव भी रहे मौजूद
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.