scriptserious problems in bus stand katni | परिसर के गड्ढों में दलदल, पानी के लिए तरसते हैं यात्री, पंखें भी बंद, गंदगी का अंबार | Patrika News

परिसर के गड्ढों में दलदल, पानी के लिए तरसते हैं यात्री, पंखें भी बंद, गंदगी का अंबार

सुरक्षित न होने से दिनभर होता है अवारा मवेशी, शूकर व श्वानों का कब्जा, फैलाते हैं गंदगी
बस स्टंैड में पार्किंग शुल्क वसूली का मामला, मूलभूत सुविधाओं में कमी होने पर ऑपरेटर व व्यापारी दर्ज करा चुके हैं आपत्ति

कटनी

Published: May 29, 2022 10:14:42 pm

कटनी. बड़े-बड़े गड्ढे..., उन गड्ढों में भरा पानी, दलदल जैसा परिसर, गड्ढों से कूद-फांद करके अपनी मंजिल तक पहुंचते लोग, कोई नाक को बंद किए हुए तो कोई कीचड़ से बचकर निकलने का प्रयास करता हुआ तो कोई व्यवस्था पर कोसता हुआ...। यह नजारा है शहर के प्रियदर्शनी बस स्टैंड का। इतना ही नहीं यहां पर पेयजल की गंभीर समस्या है। नाम के लिए एक वॉटर कूलर लगा हुआ है जो नाकाफी है। पिछले दो माह से भीषण गर्मी पड़ रही है और यहां पर लगे पंखे बंद हैं, कोई मुड़ा है तो कोई हिलडुल तक नहीं रहा। बस स्टैंड में यात्री पानी के लिए तरस रहे हैं। यात्री सुविधाओं पर नगर निगम व प्रशासन का ध्यान नहीं है और शुल्क वसूलने की तैयारी हो गई है। बकायदा बस स्टैंड में शुल्क वसूली के लिए बूथ भी तैयार हो गया है।

परिसर के गड्ढों में दलदल, पानी के लिए तरसते हैं यात्री, पंखें भी बंद, गंदगी का अंबार
परिसर के गड्ढों में दलदल, पानी के लिए तरसते हैं यात्री, पंखें भी बंद, गंदगी का अंबार

नहीं है बिजली की व्यवस्था
बस चालक छंगे पटेल ने कहा कि इतनी भीषण गर्मी में यहां पर पंखे तक नहीं चल रहे। बस लेट होने व समय न होने के कारण यात्री धूप तपते रहते हैं। पानी के लिए बॉटल लिए घूमते रहते हैं। यात्री मुकेश गुप्ता ने कहा कि इतने बड़े परिसर में कम से कम 5 वॉटर कूलर की व्यवस्था होनी चाहिए। परिसर में पर्याप्त बिजली की भी व्यवस्था नहीं है। शाम होते ही अंधेरा रहता है। पर्याप्त रोशनी की व्यवस्था नहीं है।

ये भी हैं परिसर में समस्या
- यात्री प्रतिक्षालय की टूटी हैं सीटें, यात्रियों को बैठने में होती है परेशानी, मरम्मत के लिए नगर निगम नहीं दे रही ध्यान।
- बारिश के सीजन में बस स्टैंड खुला है पूरे समय अवारा शूकर, मवेशी, श्वान जाकर फैलाते हैं गंदगी जिससे होती है असुविधा।
- नाली नहीं होने से बसों की सफाई के दौरान कीचड़ का माहौल निर्मित हो जाता है, जिससे यात्रियों को आवागमन में होती है असुविधा।
- जबलपुर, रीवा, दमोह, शहडोल, इंदौर, भोपाल, रायपुर सहित लोकल बसों का परिचालन होता है।
- बस स्टैंड में बड़े-बड़े नाले खुले हैं, इससे न सिर्फ दुर्गंध बल्कि हर समय बना रहता है हादसे का भय।
- बस स्टैंड में अभी भी हो रहा पुराने वाहनों का सुधार कार्य, कई दिनों तक पड़े रहते हैं खचाड़ा वाहन।
- जबलपुर व मैहर रूट में खड़ी होने वाली बसों के समीप रहती है ज्यादा गंदगी, समस्या के समाधान के लिए कोई प्रयास।

यह है बस स्टैंड की स्थिति
- 180 से अधिक बसें प्रतिदिन करती हैं आवागमन।
- 8 हजार से अधिक यात्री प्रतिदिन बस से करते हैं यात्रा।
- 15 दिन में नगर निगम दिया है व्यवस्था पूरी करने आश्वासन।
- 25 रुपये बस व 10 रुपये ऑटो से शुल्क वसूली की है तैयारी।

बस ऑपरेटरों का है अपना तर्क
बस ऑपरेटर व बस ऑपरेटर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष शुभ मिश्रा, रामजी पांडेय, पंकज गुप्ता, मनोज चौरसिया ने कहा कि नगर निगम व प्रशासन द्वारा बस स्टैंड में यात्री सुविधाओं से लेकर ऑपरेटर्स की सुविधा के लिए कोई इंतजाम नहीं किए हैं। प्रदेश में कहीं पर भी इस तरह का शुल्क नहीं है, इसके बाद भी कटनी में यह निर्णय लिया जा रहा है। ठेकेदार को लाभ पहुंचाने के लिए यह किया जा रहा है। अव्यवस्था के बीच वे 25 रुपये किसी कीमत में शुल्क नहीं देंगे।

सुधार कार्य के लिए नहीं तय जगह
शुभ मिश्रा ने कहा कि पूर्व में जहां पर ऑडिटोरियम बना है वहां पर बस ऑपरेटरों के लिए स्थल चयन किया गया था, लेकिन अब बसें खड़ी करने स्थल नहीं हैं। बस ऑपरेटर यह भी मांग रख रहे हैं कि कोई ऐसा स्थान तय किया जाए जहां वे बसें खड़ी कर काम करा पाएं। बस स्टैंड परिसर में काम कराने में बदरंग नजा आता है व भीड़ के कारण समस्या भी होती है।

इनका कहना है
शुल्क वसूली की प्रक्रिया शुरू हो गई है। अभी बस ऑपरेटर और ऑटो चालक शुल्क दे नहीं रहे हैं। बस स्टैंड में छोटी-छोटी मूलभूत सुविधाओं के विस्तार पर काम कराया जाएगा। सीट व पंखे ठीक कराए जाएंगे। सफाई व्यवस्था भी सुदृढ़ होगी। बेपरवाही पर कार्रवाई करेंगे। बस ऑपरेटरों की मांग पर भी विचार किया जाएगा।
सत्येंद्र सिंह धाकरे, आयुक्त नगर निगम।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

बिहार कैबिनेट पर दिल्ली में मंथन, आज शाम सोनिया गांधी से मिलेंगे तेजस्वी यादव, 2024 के PM कैंडिडेट पर बोले नीतीश कुमारCoronavirus News Live Updates in India : 24 घंटे में कोरोना के 16,561 नए केसडिप्टी सीएम बनने के बाद आज पहली बार लालू यादव से मिलेंगे तेजस्वी यादव, मंत्रालयों के बंटवारे पर होगी चर्चाRajasthan BSP : 6 विधायकों के 'झटके' से उबरने की कवायद, सुप्रीमो Mayawati की 'हिदायत' पर हो रहा कामJammu Kashmir: कश्मीर में एक और बिहारी मजदूर की हत्या, बांदीपोरा में आतंकियों ने मोहम्मद अमरेज को मारी गोलीबिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार 'बिहार वृक्ष सुरक्षा दिवस' कार्यक्रम में हुए शामिल, पेड़ को बांधी राखी, कहा - वृक्ष की भी होनी चाहिए रक्षाअमरीका: गर्भपात के मामले में फेसबुक ने पुलिस से शेयर की माँ-बेटी की चैट हिस्ट्री, अमरीका से लेकर भारत तक रोष, निजता के अधिकार पर उठे सवालLegends league के लिए पाकिस्तानी क्रिकेटरों को वीजा देगा भारत?, BCCI अधिकारी ने कही ये बात
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.