पॉजिटिव संख्या में अचानक इजाफा रोकने धीमी जांच!

रविवार को आइसीएमआर से आई 146 नमूनों की जांच रिपोर्ट में 64 पॉजिटिव मिले, कुल संक्रमितों की संख्या पहुंची 734.

 

By: raghavendra chaturvedi

Updated: 14 Sep 2020, 11:40 PM IST

कटनी. जिलेभर में कोरोना संक्रमण में बेतहासा वृद्धि के बाद स्वास्थ्य विभाग भी बैकफुट पर आ गया है। विभाग के अधिकारियों को पहले से अंदाजा था कि रविवार को आइसीएमआर से आने वाली रिपोर्ट में पॉजिटिव की संख्या ज्यादा हो सकती है, इसलिए कटनी जिला अस्पताल में रैपिड एंटीजन टेस्ट नहीं किया गया। इधर रविवार को आइसीएमआर जबलपुर से आई 146 नमूनों की जांच रिपोर्ट में 64 पॉजिटिव मिले। इसके साथ ही एक दिन पहले रैपिड एंटीजन टेस्ट के पांच नमूनों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। एक साथ 64 पॉजिटिव के सामने आने के बाद जिलेभर में कुल संक्रमितों की संख्या 734 पहुंच गई।

एक साथ इतनी बड़ी संख्या में पॉजिटिव रिपोर्ट आने के बाद जिला प्रशासन में हड़कंप मच गया। कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों की स्थिति से निपटने के लिए आगामी तैयारियों पर रणनीति बनाई गई। सीएमएचओ डॉ. आरबी सिंह ने बताया कि रविवार को 11 मरीज स्वस्थ होकर घर लौटे, अब तक कोरोना से स्वस्थ होने वाले मरीजों की संख्या 514 पहुंच गई।

कोरोना के मामलों में वृद्धि के साथ ही स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी की जाने वाली कोरोना बुलेटिन में आंकड़ों पर सवाल उठे। नागरिकों ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा जिले में कोरोना के आंकड़े छिपाए जा रहे हैं। कोरोना की तारीख वार स्पष्ट जानकारी जारी नहीं की जा रही है। कभी ट्रूनॉट की जानकारी तो कभी आइसीएमआर व रैपिड एंटीजन की जानकारी छिपाई जाती है।

जिलेभर में कोरोना के मामलों में वृद्धि के बाद अब प्रशासन ने होम आइसोलेशन में इलाज की सुविधा में विस्तार पर जोर देने की तैयारी की है। कलेक्टर एसबी सिंह ने बताया कि होम आइसोलेशन में कोरोना पॉजिटिव का इलाज की सुविधा को बेहतर बनाने के लिए जिले के सभी एसडीएम को निर्देश दिए गए हैं।

Corona virus
raghavendra chaturvedi Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned