तहसीलदार द्वारा गठित टीम ने सात दिन में नहीं किया सीमांकन

कांग्रेस नेता ने सीमांकन पर लगाई आपत्ति.

लल्लू भइया की तलैया का सीमांकन करने तहसीलदार ने 29 फरवरी को टीम गठित कर सात दिन में सीमांकन के दिए थे निर्देश.

By: raghavendra chaturvedi

Published: 07 Mar 2020, 11:39 AM IST

कटनी. लल्लू भइया की तलैया का सीमांकन करने के लिए तहसीलदार द्वारा टीम गठित करने के सात दिन बाद भी सीमांकन नहीं हुआ। तहसीलदार ने टीम गठित कर आरआइ और पटवारियों को निर्देश दिए थे। इधर सीमांकन को लेकर कांग्रेस नेता ने तहसीलदार कार्यालय में आपत्ति भी दर्ज करा दी है। कांग्रेस नेता राकेश जैन कक्का ने तहसीलदार को लिखे पत्र में भू राजस्व संहिता को आधार मानकर सीमांकन आपत्ति दर्ज कराई है कि आवेदन देने वाला भूस्वामी नहीं है।

राजस्व विभाग ने रिकॉर्ड में लल्लू भइया की तलैया को तालाब मद में दर्ज बताकर सीमांकन के निर्देश दिए हैं। इधर सीमांकन में लगातार हो रहे विलंब और तालाब के अस्तित्व से परेशान शहर के सभ्रांत नागरिकों ने इस पूरे मामले मेंं तालाब को वास्तविक स्वरुप में लाए जाने की मांग की है। नागरिकों ने बताया कि शहर के बीचोबीच स्थित एतिहासिक और सांस्कृतिक महत्व की विरासत लल्लू भइया की तलैया अपना अस्तित्व खो रहा है। कभी पानी से लबालब यह तालाब अब गड्ढ़े में तब्दील होता जा रहा है। मुख्यमंत्री के माफिया दमन अभियान के बाद शहर के नागरिकों को उम्मींद थी कि लल्लू भइया की तलैया के दिन बहुरेंगे।

तहसीलदार मुनव्वर खान ने बताया कि भइया की तलैया का सीमांकन करने टीम गठित की है। टीम को सात दिन में सीमांकन करना था। कांग्रेस नेता द्वारा आपत्ति लगाए जाने के बाद विलंब हुआ है। आपत्ति की जांच की जा रही है। जल्द ही आगे की कार्रवाई की जाएगी।

raghavendra chaturvedi Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned