तहसीलदार ने छापा मारकर पकड़ी दूसरे प्रदेशों से आई तीन हजार बोरी धान, होने वाला था यह खेल

- रीठी तहसीलदार व खाद्य विभाग की बड़ी कार्रवाई, तीन गांवों में दबिश, दूसरे प्रदेशों से आई 3010 बोरी धान जब्त
- संबंधितों के पास व्यापारी पंजीयन न होने पर की गई कार्रवाई, गुरजीकला में भागा कारोबारी
- समर्थन मूल्य पर खपाने उत्तरप्रदेश, पंजाब आदि से मंगाई जा रही धान
- पूछताछ में नहीं बता रहे सोर्स, धान जब्ती के बाद कार्रवाई के लिए बनाया प्रकरण

By: balmeek pandey

Published: 22 Nov 2020, 09:35 AM IST

कटनी. जिले में समर्थन मूल्य पर धान की खरीदी शुरू हो गई है, ऐसे में केंद्रों में बड़े पैमाने पर बाहर से पुरानी धान को मंहगे रेट पर खपाने के लिए दलालों द्वारा खेल शुरू हो गया है, इसका खुलासा प्रशासन द्वारा लगातार की जा रही कार्रवाई से हो रहा है। दो दिन पहले जहां बहोरीबंद के सिहुंड़ी में चार लोगों के पास से 936 क्विंटल धान जब्त की गई थी तो वहीं शुक्रवार रात व शनिवार को रीठी क्षेत्र से डेढ़ हजार क्विंटल से अधिक धान जब्त की गई है। इस कार्रवाई से कारोबारियों में न सिर्फ हड़कंप मच गया है बल्कि खरीदी में होने वाले व्यापक गड़बड़ी का पहले से भंडाफोड़ हो रहा है। रीठी में बड़ी कार्यवाही की गई है। बड़ी मात्रा में यूपी व पंजाब से आई धान जब्त की गई है।
बता दें कि रीठी तहसीलदार राजेश पांडेय, फूड इंस्पेक्टर खाद्य विभाग वंदना जैन सूचना पर रीठी क्षेत्र के अमगवां में कार्रवाई करने टीम के साथ पहुंचे। बताया गया था कि यहां बाहर से आई धान बड़ी मात्रा में रखी हुई है, जिसे समर्थन मूल्य पर खरीदी में खपाया जाएगा। ग्राम अमगवां में संतोष पटेल के कब्जे से 950 बोरी धान एवं राकेश लोधी के पास से 900 बोरी धान जब्त की गई। बताया जा रहा कि यह धान उत्तरप्रदेश से लाई गई है, जिसे जब्त किया गया। प्रकरण तैयार करते हुए अनुविभागीय अधिकारी को भेजा है।

यूपी व पंजाब की छाप
सूचना पर टीम रीठी क्षेत्र के ग्राम सलैया गांव में दबिश देने पहुंची। यहां पर ऋषि अग्रवाल के पास से 560 बोरी धान जब्त की गई। तहसीलदार ने बताया कि बोरी में यूपी, पंजाब का छाप है और धान पुरानी है। पूछने पर बताया कि रैपुरा के व्यापारी से धान खरीदे हैं। पंजीकृत व्यवसाई नहीं हैं। उपार्जन केंद्र में इसका उपयोग न हो इसके लिए केस बनाया गया है। इसे समर्थन मूल्य में खपाने के लिए मंगाया गया था।

दबिश देते ही भागा आरोपी
शनिवार की शाम मुखबिर से सूचना प्राप्त हुई कि गुरजीकला में अयोध्या प्रसाद द्वारा भी बड़ी मात्रा में धान बाहर से मंगाकर रखी गई है। जैसे ही टीम मौके पर छापामार कार्रवाई करने पहुंची तो आरोपी भाग गया। हालांकि प्रशासन ने 600 बोरी के ऊपर धान को जब्त कर लिया है।

इनका कहना है
लगातार मिल रही सूचना और शिकायतों के बाद अधिकारियों को भेजकर जांच कराई जा रही है। शुक्रवार रात और शनिवार को 3 हजार बोरी से अधिक धान जब्त की गई है। कारोबारियों व दलालों के विरुद्ध कठोर वैधानिक कार्रवाई की जाएगी है। पूरे जिले में कड़ी निगरानी जारी है।
शशिभूषण सिंह, कलेक्टर।

balmeek pandey Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned