दामिनी फिल्म से कम नहीं यहां के एसडीएम की कार्यप्रणाली, विद्यार्थियों की मसले पर दे रहे तारीख पर तारीख

-शासकीय तिलक कॉलेज में तीन माह बाद भी नहीं हो पाई जनभागीदारी की बैठक

-28 दिन के भीतर बैठक कराकर समस्याओं का निराकरण कराने जिम्मेदारों ने दिया था आश्वासन, 20 दिन बीते

 

By: dharmendra pandey

Updated: 04 Nov 2019, 11:27 AM IST

कटनी. फिल्म दामिनी का डायलॉग तारीख पर तारीख कटनी एसडीएम पर चरितार्थ हो रहा हैं। आलम यह है कि शासकीय तिलक कॉलेज में तीन माह से अधिक का समय बीत जाने के बाद भी जनभागीदारी की बैठक नहीं हो पा रही है। लापरवाही के चलते जिम्मेदार बैठक का समय ही तय नहीं कर पा रहे हैं। सिर्फ तारीख ही आगे बढ़ाई जा रही है।
सरकारी कॉलेज की व्यवस्थाओं को पूरा करने के लिए सरकार द्वारा जनभागीदारी समिति का गठन किया गया हैं। वर्तमान समय में कटनी एसडीएम शासकीय तिलक कॉलेज के जनभागीदारी समिति के अध्यक्ष हैं, लेकिन तीन माह से अधिक का समय गुजर जाने के बाद भी बैठक नहीं होने से कॉलेज की व्यवस्थाओं को पूरा करने कोई रूपरेखा तैयार नहीं हो पाई। कॉलेज की स्थिति यह है कि छात्रों के बैठने के लिए कुर्सी टेबल तक नहीं है। पुस्तकों की भी कमी बनी हुई है। दूसरी तरफ छात्रों के बैठने की व्यवस्था, पुस्तकों की कमी और मुख्यगेट पर सीसीटीवी कैमरा लगवाए जाने को लेकर एनएसयूआइ छात्र संगठन द्वारा आंदोलन किया गया था। छात्र संगठन के उग्र प्रदर्शन को देखते हुए मौके पर पहुंचे जिला प्रशासन के अधिकारियों ने चार सप्ताह के भीतर बैठक कराकर सारी समस्याओं का निराकरण कराने लिखित में आश्वासन दिया था। इसमें से 20 दिन का समय बीत गया है और अब तक कोई भी रूपरेखा जिम्मेदार बना नहीं पाए हैं।

-जनभागीदारी की बैठक कराने के लिए दो बार एसडीएम से मिलने गया था। इससे पहले दो से तीन बार फोन पर चर्चा हुई थी, लेकिन व्यस्तता के चलते समय नहीं दें पा रहे थे। सोमवार को शाम 5 बजे बैठक के लिए समय दिया गया है।
डॉ. सुधीर खरे, प्राचार्य, शासकीय तिलक कॉलेज।

-इससे पहले बैठक के लिए कोई समय नहीं दिया था। यदि कोई जरूरी काम नहीं आया और मौजूद रहा तो सोमवार शाम 5 बजे बैठक के लिए समय दिया हूं।
बलवीर रमण, एसडीएम कटनी।

dharmendra pandey
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned