सरकारी व्यवस्था में बेपरवाही का एक उदाहरण यह भी...

उधार में पैसे लेकर सरपंच ने बनवाया आंगनबाड़ी भवन, तीन साल से 4 लाख रुपए के लिए लगा रहे अफसरों के चक्कर.

- सरपंच ने कहा जिनसे उधार लिया वे अब थाने में एफआइआर दर्ज करवाने की कह रहे बात.

By: raghavendra chaturvedi

Published: 27 Jun 2021, 11:46 AM IST

कटनी. ग्राम पंचायत पथराड़ी पिपरिया में पांच साल पहले 7 लाख 80 हजार रुपए में आंगनबाड़ी भवन निर्माण स्वीकृत हुई। इसमें 6 लाख रुपए राज्य शासन के परफार्मेंश ग्रांट मद से और 1 लाख 80 हजार रुपए मनरेगा से बतौर मजदूरी का बजट निर्धारित किया गया। सरपंच गोविंद पटेल ने गांव के नौनिहालों के भविष्य को ध्यान में रखते हुए उधार लेकर भवन का निर्माण करवा दिया। 15 अगस्त 2018 को आंगनबाड़ी भवन महिला एवं बाल विकास विभाग को हैंडओवर भी हो गया और बच्चे यहां पढ़ाई भी करने लगे।

जानकर ताज्जुब होगा कि भवन हैंडओवर होने के तीन साल बीत जाने के बाद भी सरपंच को 4 लाख रूपये की राशि नहीं मिली। निर्माण के दौरान राज्य शासन के परफार्मेंश ग्रांट मद से 2 लाख रुपये और मनरेगा का 1 लाख 80 हजार रुपए तो मिल गया, लेकिन शेष राशि अब तक नहीं मिली। इधर, लगातार 3 साल तक अफसरों के चक्कर लगाने के बाद भी पैसे नहीं मिलने से सरपंच गोविंद पटेल परेशान हैं। उनका कहना है कि जिन लोगों से उधार लेकर भवन बनवाया था, वे लोग अब थाने में एफआइआर दर्ज करवाने तक की बात कह रहे हैं। सरपंच ने बताया कि शेष भुगतान के लिए बहोरीबंद जनपद सीइओ और कटनी जिला पंचायत सीइओ को कई बार पत्र लिख चुके हैं।

इस बारे में बहोरीबंद जनपद सीइओ मीना कश्यप बतातीं हैं कि पथराड़ी पिपरिया आंगनबाड़ी भवन निर्माण का भुगतान लंबित है। भुगतान शासन स्तर से होना है। हमारे यहां से प्रक्रिया पूर्ण कर भेज दी गई है। आबंटन आते ही सरपंच को भुगतान किया जाएगा।

raghavendra chaturvedi Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned