हॉस्टल में चल रहा था ये काम, औचक निरीक्षण पर पहुंचे अफसर तो खुली पोल

dharmendra pandey

Publish: Dec, 07 2017 11:50:35 (IST)

Katni, Madhya Pradesh, India
हॉस्टल में चल रहा था ये काम, औचक निरीक्षण पर पहुंचे अफसर तो खुली पोल

एक साथ ६८ हॉस्टल में पहुंचे अधिकारी, देखी व्यवस्थाएं

कटनी. जिलेभर के ६८ छात्रावास में रहकर पढ़ाई कर रहे बच्चों को मानक के अनुरूप माहौल और सुविधाएं उपलब्ध करवाने कलेक्टर विशेष गढ़पाले ने बुधवार को अनूठा प्रयोग किया। सुबह १० बजे एक साथ जिलेभर के अधिकारियों को कलेक्ट्रेट सभागार बुलवाया। इस दौरान अधिकारियों को बताया नहीं गया था कि उन्हे कहां जाना है। सभी अधिकारी सुबह समय पर पहुंचे, तभी कलेक्टर पहुंचे और बताया कि सभी को एक-एक हॉस्टल का निरीक्षण करना है। इसके लिए पहले से तैयार हॉस्टल के नाम की पर्ची अधिकारियों को उठाने कहा गया। जिन अधिकारियों को जो पर्ची मिली वहां उन्हे फौरम पहुंचकर निरीक्षण कर रिपोर्ट देने के निर्देश दिए गए है। निरीक्षण को लेकर कलेक्टर ने सभी अधिकारियों से हमें यह देखना है कि हॉस्टल में हमारे बच्चे रहकर पढ़ाई करते तो उनके अनुरुप सुविधाएं बेहतर है या नहीं। अधिकारियों द्वारा निरीक्षण के बाद बुधवार शाम स्टेनो को रिपोर्ट सौंपी गई। इसकी समीक्षा कर आगे कार्रवाई की जाएगी।


दाल गाढ़ा करने हॉस्टल अधीक्षक मिलवा देते हंै माड़, खाने में मिलते है कीड़े
बुधवार को खिरहनी स्थित पोस्ट मैट्रिक छात्रावास का एसडीओ पीएचई एसएल कोरी ने औचक निरीक्षण किया। यहां विद्यार्थियों ने खाने में कीड़ा मिलने की शिकायत की। कहा खाने में आए दिन कीड़े मिलते है। कई बार अधीक्षक व आदिम जाति कल्याण के संचालक को जानकारी दी गई तो उनके द्वारा विद्यार्थियों को डांट फटकार कर भगा दिया गया। विद्यार्थियों ने कहा कि दाल को गाढ़ा करने उसमें माड़ मिला दिया जाता है। शिकायत सुनने के बाद जांच अधिकारियों ने अधीक्षक को व्यवस्था में सुधार करने के निर्देश दिए। इसके साथ ही छात्रावास की साफ-सफाई देखी। जिसमें शौचालय में गंदगी पसरी मिली। इसके बाद पंचनामा कार्रवाई की।

साफ-सफाई का मिला अभाव:
रीठी: शासकीय बालक आश्रम का कटनी एसडीएम ने औचक निरीक्षण किया। इस दौरान छात्रावास में कम बच्चे मिले। पानी की टंकी में सफाई करने की डेट भी नही मिली। साफ-सफाई का अभाव था। जिस पर कटनी एसडीएम राजेंद्र पटेल ने व्यवस्था में सुधार लाने के निर्देश दिए।

बेहतर मिली व्यवस्था:
विजयराघवगढ: शासकीय अनुसूजित जाति-जनजाति बालक छात्रावास का सहायक परियोजना अधिकारी अभय मिश्रा ने निरीक्षण किया। इस दौरान व्यवस्थाएं बेहतर मिली। विद्यार्थियों ने बताया कि छात्रावास में कोचिंग की सुविधा नहीं मिल रही है। जिसका उन्होंने निराकरण कराने का आश्वासन दिया। इसके साथ ही तहसीलदार राजेश पांडे ने अनुसूचित जाति कन्या छात्रावास का निरीक्षण किया। व्यवस्थाओं में सुधार करने के निर्देश दिए।

 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned