ट्रेक के बीचोंबीच पड़ा था कटा सिर और चार घंटे तक गुजरती रहीं ट्रेनें

ट्रेक के बीचोंबीच पड़ा था कटा सिर और चार घंटे तक गुजरती रहीं ट्रेनें

shivpratap singh | Publish: Sep, 10 2018 12:03:00 PM (IST) Katni, Madhya Pradesh, India

10 बजे घटना, 10.30 पर जारी हुआ मेमो, 11.30 पर रिसीव, जीआरपी ने 2.30 बजे उठाया शव

कटनी. गाड़ी संख्या १५२३२ गौंदिया-मुजफ्फरपुर एक्सप्रेस ट्रेन की चपेट में आने से कटनी-सतना डाउन ट्रेक पर रविवार सुबह एक युवक की मौत हो गई। घटना मुख्य रेलवे स्टेशन से कुछ ही दूरी पर आधारकाप की है। हादसे के बाद मौके स्थानीय लोगों की भीड़ जमा हो गई। युवक का शव उठाने में हुई लेटलतीफी का आलम यह करीब ४ घंटे तक शव के ऊपर से ट्रेनें गुजरती रहीं।
जानकारी के अनुसार गौंदिया एक्सप्रेस को सुबह 10 बजे मुख्य रेलवे स्टेशन से रवाना किया गया। इसी से युवक की कटकर मौत हुई। रेलवे प्रबंधन को ट्रेक में शव होने की जानकारी मिली तो 10.30 बजे जीआरपी को मेमो जारी किया गया। यह मेमो जीआरपी ने 11.30 बजे रिसीव किया। इसके बाद जीआरपी के जवान शव को उठाने के लिए सफाईकर्मियों की तलाश करते रहे। लगातार हुई लेटलतीफी के चलते युवक का शव करीब 4 घंटे तक ट्रेक पर ही पड़ा रहा। स्थानीय लोगों व रेलवे अफसरों के अनुसार शव 2.30 बजे ट्रेक से हटाया गया। इस दौरान चार पैसेंजर ट्रेनें व एक मालगाड़ी इसी रूट से और शव के ऊपर से गुजर गईं। शव का सिर ट्रेक के बीच में था, इसके कारण ट्रेनों को कॉसन आर्डर पर यहां से निकाला गया।

ट्रेक पर घूम रहा था युवक
स्थानीय लोगों ने बताया कि युवक सुबह से ही ट्रेक पर घूम रहा था। कुछ लोगों ने उसे ट्रेक पर जाने से भी मना किया था। जीआरपी पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम करवाया गया है। मृतक की शिनाख्त अबतक नहीं हो सकी है। पुलिस का मानना है कि प्रथम दृष्टया मामला आत्महत्या का प्रतीत हो रहा है।


इनका कहना
शव दोपहर 1 बजे मौके से उठा लिया गया था। मेमो में मृतक महिला या पुरुष कौन था, यह स्पष्ट नहीं था। सफाईकर्मी न मिलने के कारण थोड़ा विलंब हुआ है। मृतक की शिनाख्त अबतक नहीं की जा सकी है।
डीपी चड़ार, टीआई, जीआरपी

Ad Block is Banned