बारिश ने खोली दावों की पोल, बस्तियों में भरा पानी, आवागमन हुआ मुहाल, वीडियों में देखे कैसे आफत में डाली जान

कुठला चंडिका नगर, शिवाजी नगर, इंद्रानगर, साईंपुरम कॉलोनी सहित अन्य बस्तियों में भरा पानी, रहवासी हुए परेशान

By: balmeek pandey

Updated: 25 Jul 2021, 09:42 PM IST

Katni, Katni, Madhya Pradesh, India

कटनी. तीन दिनों से जिले में कभी रिमझिम तो कभी झमाझम बारिश हो रही है। बारिश से भले ही मौसम में ठंडक घुल गई हो और किसानों के चेहरे खिल गए हों, लेकिन शहरी क्षेत्र की कई बस्तियों में मुसीबत बन गई है। तीन दिनों की बारिश ने बारिश के पूर्व नगर निगम द्वारा की जाने वाले व्यवस्था के दावों की पोल खोलकर रख दी है। शहर की कई सड़कों में न सिर्फ जलभराव की स्थिति बनी है बल्कि बस्तियों में पानी भर जाने से लोगों का आवागमन मुहाल हो गया है व मकानों में जिलकन होने लगी है। हैरानी की बात तो यह है कि 24 घंटे से अधिक का समय बीतने के बाद भी नगर निगम ने बारिश के पानी की निकासी के लिए कोई खास पहल नहीं की।
बारिश से बैराज के जलस्तर में उछाल है। बारिश से ग्रामीण इलाकों में बारिश के बाद नदी नाले उफान पर हैं। कई जगह पुल के ऊपर पानी आ जाने से आवागमन बाधित हो गया है। शहर के वार्ड क्रमांक 18 के अंतर्गत साईं पुरम कॉलोनी के पीछे पवनपुरी क्षेत्र के हनुमान, परशुराम मंदिर के आस-पास के रहवासियों के मकानों के पास बारिश का पानी भर गया है। यहां के नाले को एक व्यक्ति द्वारा बंद कर दिया है। जिससे जलभराव हो गया है। बड़े-बड़े गड्ढों, फाउंडेशन में पानी भर जाने से बच्चों के डूबने का खतरा भी है। वहीं आवागमन करने में लोगों को दिक्कत हो रही है। स्थानीय निवासी पुरुषोत्तम गौतम, पूर्व पार्षद मनोज गुप्ता, राजेश मिश्रा आदि ने पानी निकासी की व्यवस्था करने मांग की है।

 

बारिश ने खोली दावों की पोल, बस्तियों में भरा पानी, आवागमन हुआ मुहाल, वीडियों में देखे कैसे आफत में डाली जान

सड़कों में घुटनों से भरा पानी
कुठला बस्ती के चंडिका नगर पीएल चौबे मार्ग में बारिश की वजह से घुटनों से पानी भर गया है। लोगों को आवागमन के लिए बड़ी परेशानी उठानी पड़ी। विनोद दुबे, नितिन चौबे, राजेश दुबे, शिव चतुर्वेदी, विजय मिश्रा, सतेंद्र, रवि उरमलिया, सतेंद्र सोनी, ब्रजभूषण सिंह, प्रकाश द्विवेदी, मो वसीर, मो जमाल, शाहिद, नाजिर, अफरोज आदि ने बताया कि मार्ग का निर्माण चंडिका नगर मुख्य मार्ग की ऊंचाई के बराबर होना था, लेकिन बार-बार आपत्ति के बाद भी गुणवत्ता हीन सड़क का निर्माण कराया गया जिससे बारिश में बड़ी समस्या खड़ी हो गई है।

यहां भी हुई समस्या
- बारिश से घंटाघर के आगे तिलक राष्ट्रीय स्कूल के पास से लेकर जालपा मंदिर मोड़ तक सड़क में भरा पानी, लोगों को हुई परेशानी।
- इंदिरा नगर की निचली बस्ती में भी भरा पानी, आधारकाप क्षेत्र में भी जलभराव होने से हुई लोगों को समस्या।
- बस स्टैंड के आगे शिवाजी नगर में भी भरा पानी, मंगलनगर व सागर पुलिस में भराव होने से आवागमन करने वालों को हुई मुसीबत।

उफनाती नदी में पलटा ट्रक
जिले में लगातार बारिश के चलते नदी-नाले उफान पर हैं, जिसका एक नजारा बरही थाना क्षेत्र के खितौला ग्राम से 5 किलो मीटर स्थित भदार नदी बगदरी पर बने पुल के ऊपर देखने मिला। पुल के ऊपर से बह रहे पानी के ऊपर से कोयले का डम्फर पानी के बहाव में पलट गया। डम्फर चालक और परिचालक तैर कर बाहर आ गए। ग्रामीणों की मदद से डम्फर के चालक व परिचालक नदी से बाहर निकल गए। वही इस घटना की ग्रामीणों द्वारा सूचना देने के बाद भी मौके पर स्थानीय प्रशासन मौके पर नहीं पहुंचा और हादसे के बाद भी वाहन इस पानी से भरे पुल को जान जोखिम में डाल पार करते रहे।

mausam mausam news
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned