तस्करों को पकड़ने की बजाय पुलिस खुद ही करने लगी तस्करी

-दो पुलिसवाले गिरफ्तार

By: Ajay Chaturvedi

Published: 08 Oct 2020, 02:19 PM IST

कटनी. कहां तो पुलिस शराब की तस्करी को रोकने के लिए है। मध्य प्रदेश में तो इसके लिए पुलिस बाकायदा अभियान चला रही है। कहा जा रहा है कि मध्य प्रदेश को पंजाब नहीं बनने देंगे। युवाओं को नशे से दूर करेंगे। लेकिन यहां तो उलटा ही दिखने लगा, अब पुलिस वाले ही शराब की तस्करी में संलग्न हैं। ऐसे में शराब तस्करों का मनोबल न बढ़े ऐसा कैसे हो सकता है। हालांकि कटनी पुलिस ने इसमें पहल करते हुए जबलपुर के दो आरक्षकों को गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार पुलिस वालों से कार से नौ सौ पाव देशी मदिरा जब्त की गई है।

पुलिस ने बताया कि दमोह जिले के रैपुरा कुम्हारी की तरफ से कुछ आरोपियों को बहोरीबंद पुलिस ने पुलिस की वर्दी में अवैध रूप से शराब लाकर जबलपुर व कटनी जिले के कई क्षेत्र में सप्लाई करने के मामले में गिरफ्तार किया है। बहोरीबंद थाना प्रभारी रेखा प्रजापति ने बताया कि मुखबिर से सूचना मिली थी कि कुछ लोग क्षेत्र में अवैध रूप से शराब की सप्लाई कर रहे हैं। इसके बाद पुलिस अधीक्षक ललित शाक्यवार के निर्देश पर दो टीम बनाकर नाकाबंदी की गई। इसमें काले रंग की कार को पेट्रोल पंप के सामने रोक कर जांच की गई। जांच के दौरान कार में तीन लोग बैठे मिले। इनमें एक व्यक्ति सादे कपड़े में जबकि दो पुलिस की वर्दी में थे। कार से नौ सौ पाव देशी मदिरा जब्त की गई।

इन लोगों से शराब का लाइसेंस दिखाने को कहा गया तो ये बगली झांकने लगे। अवैध रूप से शराब बेचने व रखने के मामले में पुलिस ने कार चालक योगेश कुमार साहू (22) निवासी विजयनगर जबलपुर निवासी, आरक्षक मनोज असैया (35) निवासी पुलिस क्वार्टर फूटाताल थाना कोतवाली, आरक्षक रामनरेश तिवारी (55) निवासी पुलिस क्वार्टर फूटाताल थाना कोतवाली जबलपुर गिरफ्तार किया है।

पुलिस ने बताया कि आरक्षक मनोज असैया थाना कोतवाली जिला जबलपुर से संबद्ध है। वो आठ दिन से क्वारंटीन था वहीं आरक्षक राम नरेश तिवारी 29 सितंबर से अनुपस्थित था। तीनों ने पूछताछ में बताया कि हम तीनों मिलकर ठेकेदार संजय राय व उसके मैनेजर नरेंद्र राय दमोह जिले के कुम्हारी से अवैध रूप से शराब खरीदकर लाते हैं और जबलपुर व आसपास के जिले में बेच देते हैं। तीनों को गिरफ्तार कर आबकारी अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है।

कोट

"अपराधी कोई भी हो बख्शा नहीं जाएगा। पुलिस से जुड़े व्यक्ति भी यदि इस तरह के कृत्यों में शामिल होंगे तो कार्रवाई की जाएगी।"-ललित शाक्यवार, पुलिस अधीक्षक कटनी

Show More
Ajay Chaturvedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned